अगले हफ्ते से सुप्रीम कोर्ट में शुरू हो सकती है फिजिकल हियरिंग, कमेटी ने की सिफारिश

सुप्रीम कोर्ट में फिजिकल हियरिंग की शुरुआत हो सकती है.

7 न्यायाधीशों की इस कमेटी के हेड जस्टिस एनवी रमन (Justice NV Raman) हैं. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में बीते 20 मार्च से ही कोविड-19 (Covid-19) के मद्देनजर फिजिकल हियरिंग बंद कर दी गई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के सात न्यायाधीशों की कमेटी (committee of seven judges) ने अगले सप्ताह से कुछ हिदायतों के साथ फिजिकल हियरिंग की शुरुआत करने की सिफारिश की है. सुप्रीम कोर्ट में बीते 20 मार्च से ही कोविड-19 के मद्देनजर फिजिकल हियरिंग बंद कर दी गई है. इसके बाद से लगातार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ही मामलों की सुनवाई की जा रही है. न्यायाधीशों की कमेटी ने इस सिफारिश के पहले बार काउंसिल चेयरमैन मनन कुमार मिश्र और सुप्रीम कोर्ट बार काउंसिल अध्यक्ष दुष्यंत दवे से भी मुलाकात की थी.

    कुछ ही बेंच के लिए की गई है सिफारिश
    हालांकि फिजिकल हियरिंग की शुरुआत की सिफारिश कुछ ही बेंच के लिए की गई है. इसके अलावा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई भी जारी रहेगी. इससे पहले बीते महीने चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया अरविंद बोबडे ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट में 'फिजिकल हियरिंग' की शुरुआत का मामला 7 न्यायाधीशों की कमेटी देख रही है. उन्होंने कहा था कि सात न्यायाधीशों की कमेटी ये समझने की कोशिश कर रही है कि फिजिकल हियरिंग करवा पाना मुमकिन है या नहीं. यह बात सीजेआई ने मौखिक तौर पर एक केस की सुनवाई के दौरान कही थी. दरअसल वकीलों का कहना था कि अब कोर्ट की सुनवाई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बजाए कोर्ट रूम में होनी चाहिए.

    कमेटी के हेड जस्टिस एनवी रमन
    7 न्यायाधीशों की इस कमेटी के हेड जस्टिस एनवी रमन हैं. गौरतलब है कि बीते महीने खबर आई थी कि सुप्रीम कोर्ट ने ऑनलाइन सुनवाई में भी इतिहास रचा है. 22 जून को विभिन्न मीडिया संस्थानों में प्रकाशित खबरों के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने 57 दिनों के भीतर 7144 मामलों की सुनवाई की थी. जजों की कुल 618 बेंच ने 6,994 मामलों की सुनवाई कीं. इनमें पुनर्विचार याचिकाओं पर सुनवाई भी शामिल है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.