अपना शहर चुनें

States

चेन्नई: वॉर्डन से शेल्टर होम के 35 बच्चे हुए कोरोना संक्रमित, SC ने सरकार से पूछा- ऐसी लापरवाही कैसे हुई?

यूपी सरकार ने सहायक शिक्षक भर्ती मामले में सुप्रीम कोर्ट में अपील की है.
यूपी सरकार ने सहायक शिक्षक भर्ती मामले में सुप्रीम कोर्ट में अपील की है.

एक अखबार में छपी खबर के आधार पर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को तमिलनाडु की पलानी स्वामी सरकार को नोटिस जारी किया. खबर के मुताबिक, हॉस्टल के वार्डन को करोना (Coronavirus) हुआ था. बाद में बच्चों में भी इस वायरस का संक्रमण फैल गया.

  • Share this:
नई दिल्ली/चेन्नई. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. इस बीच तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के एक शेल्टर होम (Shelter Home) में रह रहे 35 बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने इसपर संज्ञान लेते हुए तमिलनाडु सरकार को नोटिस जारी किया है.

एक अखबार में छपी खबर के आधार पर सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को तमिलनाडु की पलानी स्वामी सरकार को नोटिस जारी किया. खबर के मुताबिक, हॉस्टल के वार्डन को करोना हुआ था. बाद में बच्चों में भी इस वायरस का संक्रमण फैल गया. नोटिस जारी करते हुए अदालत ने राज्य सरकार से पूछा कि ऐसी लापरवाही कैसे हुई. बच्चों की सुरक्षा के लिए राज्य सरकार की ओर से क्या किया जा रहा है? इस मामले में सोमवार (15 जून) को सुनवाई होगी.

जस्टिस एल नागेश्वर राव, जस्टिस कृष्ण मुरारी और जस्टिस एस रवींद्र भट की बेंच ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई के दौरान विभिन्न राज्य सरकारों से भी शेल्टर होम में बच्चों की सुरक्षा के लिए उठाए गए कदमों और 3 अप्रैल के उसके आदेश के अनुपालन के बारे में रिपोर्ट मांगी है. कोर्ट ने पूछा है कि सड़क पर या अनाथालय या शेल्टर होम में बच्चों को करोना से बचने के लिए क्या किया जा था है. इस मामले में अब 6 जुलाई को सुनवाई होगी.




शीर्ष अदालत ने कहा कि हाईकोर्ट किशोर न्याय समितियां आश्रय गृह में कोविड-19 से बच्चों की सुरक्षा के बारे में राज्य सरकारों को प्रश्नावली देंगी और इस बारे में उनसे मिली जानकारी एकत्र करेंगी.

क्या है पूरा मामला?
चेन्नई रोयापुरम इलाके में सरकार द्वारा संचालित आश्रय गृह में 35 से ज्यादा बच्चों और स्टाफ के 5 सदस्यों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है. शीर्ष अदालत ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान देश में बच्चों के संरक्षण के लिए बने किशोर गृहों की स्थिति का 3 अप्रैल को स्वत: ही संज्ञान है. कोर्ट ने कहा था कि किशोर न्याय बोर्ड को कथित अपराध के आरोप में इन सुधार गृहों में बंद सभी बच्चों को जमानत पर रिहा करने पर विचार करना चाहिए. बशर्ते ऐसा नहीं करने के कोई वैध कारण हो.

राज्य में कोरोना के अब तक 36,841 मामले
इस वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्यों में से एक तमिलनाडु में संक्रमण के मामलों में हो रही बेतहाशा वृद्धि चिंता का गंभीर विषय बन गई है. राज्य में आज संक्रमण के 1,927 नए मामले सामने आए हैं. इस बीच 19 मरीजों ने जान भी गंवाई है. इसके बाद राज्य में कोरोना के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 36,841 हो गई है और 326 संक्रमितों की मौत हुई है.

देश में कोरोना के कितने केस?
देश में कोरोना मामलों की संख्या 2 लाख 86 हजार 579 हो गई है. बुधवार को एक दिन में अब तक के सबसे ज्यादा 9996 केस आए हैं. 357 लोगों की मौत हुई है. इसके पहले 6 जून को सबसे ज्यादा 298 संक्रमितों ने दम तोड़ा था.

स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक, देश में कोरोना के अभी एक लाख 37 हजार 448 एक्टिव केस हैं. इस वायरस से अब तक 8 हजार 102 लोगों ने जान गंवाई है. वहीं, एक लाख 41 हजार 28 लोग रिकवर भी हुए हैं. (PTI इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें:- 24 घंटे में मिले सबसे ज़्यादा 9996 कोविड केस, 357 मौतें, जानें आपके राज्य का हाल

Covid-19: भारत में बढ़ रहा डेथ रेट, पाकिस्तान की हालत और ज्यादा खराब
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज