• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • राम मंदिर पर हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ आईं थी 14 अपील

राम मंदिर पर हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ आईं थी 14 अपील

बाबरी मस्जिद

बाबरी मस्जिद

पीठ के इस मामले में सुनवाई के लिए तीन न्यायाधीशों की पीठ का गठन करने की संभावना है. चार दीवानी वादों पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ 14 अपील दायर हुई हैं.

  • Share this:
    सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार को राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि मालिकाना हक मामले से जुड़ी याचिकाओं पर सुनवाई कर सकता है. इस मामले को चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया रंजन गोगोई और जस्टिस एस के कौल की पीठ के सामने सूचीबद्ध किया गया है.

    सुनवाई के लिए तीन जजों की पीठ का गठन करने की संभावना है. चार दीवानी वादों पर इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ 14 अपील दायर हुई हैं. इलाहाबाद हाईकोर्ट  ने फैसला सुनाया था कि 2.77 एकड़ भूमि को तीन पक्षों सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और रामलला के बीच बराबर बराबर बांटा जाए.

    पीएम नरेंद्र मोदी ने इससे पहले मंगलवार को राम मंदिर निर्माण पर कहा था कि अध्यादेश लाने पर कोई भी फैसला न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही लिया जाएगा.

    समाचार एजेंसी एएनआई को दिए एक इंटरव्यू में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि न्यायिक प्रक्रिया को धीमी गति से चल रही है, क्योंकि कांग्रेस के वकील सुप्रीम कोर्ट में 'बाधाएं' पैदा कर रहे थे. भाजपा के घोषणा पत्र में कहा है कि राम मंदिर का हल संविधैनिक तरीके से किया जाएगा.'

    बता दें कि बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के घोषणापत्र में कहा था कि वह अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण चाहती है. बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में स्पष्ट किया है कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए.

    हाल ही में मंदिर निर्माण की प्रक्रिया को तेज करने के लिए पार्टी के सहयोगी संगठन और संघ परिवार द्वारा नए सिरे से यह मांग उठाई गई है. संघ के अलावा शिवसेना ने भी इसपर अध्यादेश लाकर जल्द राम मंदिर निर्माण कराए जाने की मांग की थी.

    ये भी पढ़ें: सबरीमाला विवाद: मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ केरल में हड़ताल, हिंसा में 1 की मौत

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज