अपना शहर चुनें

States

महाराष्‍ट्र में वैक्‍सीनेशन का दूसरा दौर : मुंबई में मात्र 71 ही पहुंचे

महाराष्ट्र : कोविड-19 से सबसे बुरी तरह प्रभावित है.
महाराष्ट्र : कोविड-19 से सबसे बुरी तरह प्रभावित है.

महाराष्‍ट्र में कोविड-19 वैक्‍सीन का दूसरा डोज लगाने का सिलसिला शुरू हो गया. मुंबई में दूसरा डोज लगवाने के लिए मात्र 71 हेल्‍थ वर्कर पहुंचे, जबकि इनको मिलाकर प्रदेश में यह संख्‍या 4,679 थी. वहीं पहला डोज लेने वालों की संख्‍या 25,205 थी. महाराष्‍ट्र में अब तक 7,13,672 लोगों को वैक्‍सीन लग चुका है. हालांकि केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने महाराष्‍ट्र की स्थिति पर आंकड़े स्‍पष्‍ट किए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 16, 2021, 7:48 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में कोविड-19 टीकाकरण के दूसरे दौर के पहले दिन सोमवार को मुंबई में दूसरा डोज लेने मात्र 71 हेल्‍थ वर्कर्स पहुंचे. वहीं पहला डोज लेने के लिए 1522 हेल्‍थ वर्कर्स और 3610 फ्रंट लाइन वर्कर्स पहुंचे थे. प्रदेश में कुल 29,884 हेल्‍थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीका लगाया गया. राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी. वहीं मंगलवार को केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया कि देश में केरल के बाद सबसे अधिक कोरोना संक्रमण के मामले महाराष्‍ट्र से ही हैं.

एक बयान के अनुसार 29,884 लाभार्थियों के जुड़ने से महाराष्ट्र में टीकाकरण शुरू होने के बाद से अब तक टीकाकरण की संख्या 7,13,672 तक पहुंच गयी है. उसके मुताबिक सोमवार रात साढ़े आठ बजे तक 766 टीकाकरण केंद्रों पर जिन 29,884 लोगों को टीका दिया गया उनमें 25,205 हेल्‍थ वर्कर्स और फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीके की पहली खुराक दी गयी जबकि 4,679 हेल्‍थ वर्कर्स को दूसरी खुराक दी गयी. विभाग का कहना है कि सोमवार को जिन 25,205 को टीका लगाया उनमें 9,556 स्वास्थ्यकर्मी और 15,649 फ्रंट लाइन वर्कर्स हैं.

ये भी पढ़े:-



भारत में कोरोना के दक्षिण अफ्रीकी स्ट्रेन की दस्तक, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- अब तक 4 मरीज मिले
क्‍या मुंबई में फिर लगेगा लॉकडाउन? मेयर किशोरी पेडनेकर ने दिया बड़ा बयान

संक्रमण मामले में देश में दूसरे नंबर पर है महाराष्‍ट्र
स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, केरल में 61 हजार 550 और महाराष्ट्र में 37 हजार 383 एक्टिव मामले हैं. ये देश के 72 प्रतिशत एक्टिव केस हैं. केरल (Kerala) और महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना वायरस का कहर जारी है. स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि इन दोनों राज्यों में ही देश के 72 फीसदी एक्टिव मामले हैं. हालांकि, देश में कुल सक्रिय मामलों की संख्या गिरी है. देश में फिलहाल 1.40
लाख से कम कोविड-19 मरीज हैं. मंगलवार को प्रेस ब्रीफिंग के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी है. खास बात है कि महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए अधिकारियों को राज्य में दूसरी लहर का डर सता रहा है.

वैक्‍सीन लगाने में पिछड़ रहा है महाराष्‍ट्र
भारत में बीती 16 जनवरी से दुनिया का सबसे बड़ा वैक्सीन प्रोग्राम शुरू हो गया है. दुनिया भर में सबसे तेज गति से वैक्‍सीन भारत में ही लगाया जा रहा है. वहीं, महाराष्‍ट्र में वैक्‍सीन लगवाने की गति अपेक्षाकृत धीमी है. सरकार इसे तेज करने की दिशा में काम कर रही है. सरकार पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीका लगा रही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि राजस्थान, सिक्किम, झारखंड, मिजोरम, केरल, उत्तर प्रदेश, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, त्रिपुरा, बिहार, छत्तीसगढ़, एमपी, उत्तराखंड, लक्षद्वीप में 70 फीसदी से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा चुका है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज