Home /News /nation /

वकालत की पढ़ाई, समाज सेवा और फिर राजनेता संघर्ष भरी है अनिल जैन की कहानी

वकालत की पढ़ाई, समाज सेवा और फिर राजनेता संघर्ष भरी है अनिल जैन की कहानी

फाइल फोटो...

फाइल फोटो...

कोरोना वायरस के कारण लगे पहले लॉकडाउन में उन्होंने मजदूरों को अपने घर सुरक्षित पहुंचाने के लिए काफी मदद की. इतना ही नहीं उन्होंने महामारी के इस कठिन दौर में रक्तदान शिविरों का आयोजन करके 100 यूनिट से अधिक रक्त जरूरतमंद लोगों को उपलब्ध करवाया था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. राजस्थान के बूंदी से भारतीय जनता पार्टी की तरफ से चुनाव लड़कर काफी छोटी उम्र में उसे जीतने वाले अनिल जैन का सफर काफी दिलचस्प रहा है. उनकी इस उपलब्धि का सीधा संबंध उनकी समाज सेवा को लेकर रही रुचि को भी जाता है. शुरुआत से ही जैन को समाज के लिए कुछ करने की चाहत थी. चुनाव लड़ने के बाद उन्हें वहां के विस्तार की हर छोटी-मोटी समस्याओं को समझा एवं उनका निराकरण करने की भी काफी कोशिशें की. उन्होंने किसान, रेलवे, रास्तों जैसी कई समस्याओं पर काफी काम किया, और लोगों के हृदय में अपना स्थान एवं नाम मजबूत किया.

    कोरोना वायरस के कारण लगे पहले लॉकडाउन में उन्होंने मजदूरों को अपने घर सुरक्षित पहुंचाने के लिए काफी मदद की. इतना ही नहीं उन्होंने महामारी के इस कठिन दौर में रक्तदान शिविरों का आयोजन करके 100 यूनिट से अधिक रक्त जरूरतमंद लोगों को उपलब्ध करवाया था. समाज के लिए द्वारा किए जाने वाले इसी कामों को ध्यान में रखते हुए उन्हें रेलवे मंत्रालय की जोनल सलाहकार समिति का सदस्य रहने का मान भी मिल चुका है.

    राजनीति में सफलता हासिल करने, समाज की सेवा करने के उद्देश्य से ही उन्होंने कानून की पढ़ाई पूरी की और वकालत की डिग्री हासिल की. इतना ही नहीं वह किसानों के लिए भी काम कर रहे हैं. उन्होंने किसानों के लिए कई बार धरना प्रर्दशन किए हैं, ताकि उन्हें न्याय और फसल की कीमत के मनमाने दाम मिल सके.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर