लाइव टीवी

ग्रेनेड हमले के बाद श्रीनगर में बढ़ाई गई सुरक्षा, संदिग्‍ध की तलाश में सर्च ऑपरेशन जारी

भाषा
Updated: October 13, 2019, 7:14 PM IST
ग्रेनेड हमले के बाद श्रीनगर में बढ़ाई गई सुरक्षा, संदिग्‍ध की तलाश में सर्च ऑपरेशन जारी
श्रीनगर में हमले के बाद सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

शनिवार को सिटी सेंटर से कुछ सौ मीटर दूर हरिसिंह हाई स्ट्रीट मार्केट में हमला किया गया था.

  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu kashmir) के श्रीनगर (Srinagar) में रविवार को सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा किए गए ग्रेनेड हमले के बाद यहां सुरक्षा और बढ़ाई गई है. शनिवार को हुए इस हमले में सात लोग घायल हो गए थे.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि लालचौक, जहांगीर चौक, हरिसिंह हाई स्ट्रीट, रीगल चौक, टीआरसी चौक, पोला व्यू और सिटी सेंटर के आस-पास के क्षेत्रों में उड़ान दस्तों के साथ ही और सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं. वाहनों और लोगों की तलाशी भी की जा रही है.

अधिकारी ने बताया कि सिटी सेंटर से कुछ सौ मीटर दूर हरिसिंह हाई स्ट्रीट मार्केट में शनिवार को ग्रेनेड हमला किया गया था. उन्होंने कहा कि आम लोगों और रेहड़ी-पटरीवालों के मन में सुरक्षा की भावना मजबूत करने के लिए प्रशासन ने कदम उठाए हैं. दरअसल, रविवार को रेहड़ी-पटरी वाले साप्ताहिक बाजार के लिए स्टॉल लगाते हैं.

साप्ताहिक बाजार बस रविवार को लगते हैं

वैसे तो साप्ताहिक बाजार बस रविवार को लगते हैं लेकिन कई रेहड़ी-पटरी वाले पिछले कुछ सप्ताह से टीआरसी चौक-पोलो व्यू-लाल चौक रोड पर रोज अपनी दुकान लगाते हैं.

राज्य सरकार के प्रवक्ता रोहित कंसल ने रविवार को व्यापारियों, ट्रांसपोर्टरों, दुकानदारों, होटलमालिकों और ठेकेदारों से आतंकवादियों एवं अलगाववादियों की किसी भी धमकी से नहीं डरने और सामान्य ढंग से अपना कामकाज करने की अपील की.

कंसल ने कहा कि यह सर्वविदित है कि राज्य में भय एवं आतंक का माहौल बनाने व आतंकवाद को बढ़ावा देने की सीमापार से निरंतर कोशिश हो रही है.
Loading...

उन्होंने कहा कि आतंकवादी संगठन व्यापारियों, ट्रांसपोर्टरों को सामान्य कामकाज से रोकने के लिए लोगों को लगातार आतंकित करने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन सरकार अपने इस संकल्प पर अडिग है कि शांति भंग करने का प्रयास विफल कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें:  कश्मीर में सरकार 'नए नेताओं की फौज' लाने को तैयार, बीडीसी चुनाव से होगी शुरुआत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 6:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...