देखें तस्वीरें: हवा में ही राफेल ने भरा ईंधन, कल भारत पहुंचेगी लड़ाकू विमान की पहली खेप

देखें तस्वीरें: हवा में ही राफेल ने भरा ईंधन, कल भारत पहुंचेगी लड़ाकू विमान की पहली खेप
हवा में ईंधन भरता राफेल. (तस्वीर-ANI)

भारतीय वायुसेना ने राफेल को भारत लाने में फ्रांसीसी वायुसेना द्वारा दिए गए सपोर्ट के लिए धन्यवाद भी व्यक्त किया है. राफेल फाइटर जेट की यह पहली खेप कल यानी 29 जुलाई की सुबह उड़कर भारत के अंबाला एयर फोर्स स्टेशन (Ambala Air Force Station) पर दोपहर तक पहुंचने की उम्मीद है.

  • Share this:
नई दिल्ली. बहुप्रतीक्षित राफेल (Rafale) विमान बुधवार को भारत पहुंच जाएंगे. भारत के लिए सोमवार को फ्रांस से निकले राफेल विमान की हवा में ही ईंधन भरते (refuelled mid-air) तस्वीरें आई हैं. भारतीय वायुसेना ने राफेल को भारत लाने में फ्रांसीसी वायुसेना द्वारा दिए गए सपोर्ट के लिए धन्यवाद भी व्यक्त किया है. राफेल फाइटर जेट की पहली खेप कल यानी 29 जुलाई को अंबाला एयर फोर्स स्टेशन (Ambala Air Force Station) पर दोपहर तक पहुंचने की उम्मीद है.

20 अगस्त तक हो सकता है औपचारिक कार्यक्रम
भारतीय वायु सेना के बेड़े की खास ताकत के तौर पर शामिल होने जा रहे राफेल के आगमन के बाद 20 अगस्त के आसपास औपचारिक इंडक्शन कार्यक्रम होगा. इससे पहले ये भी कहा जा चुका है ​कि हालात के मद्देनज़र इन लड़ाकों का पहला इस्तेमाल लद्दाख में हो सकता है क्योंकि वायुसेना वहां पहले ही ज़मीनी सेना की मदद के लिए कॉम्बैट एयर पेट्रोलिंग कर रही है.





युद्धक क्षमता का मुकाबला नहीं
राफेल को एशियाई महाद्वीप में गेम चेंजर लड़ाकू विमान माना जा रहा है. दावा ये है कि चीन और पाकिस्तान के पास मौजूदा दौर में जो भी बेहतरीन फाइटर जेट हैं, ये उससे बेहतर होगा.इसकी ताकत और क्षमता का अन्य विमानों से कोई मुकाबला ही नहीं है. फ्रेंच विमान निर्माता कंपनी दसॉ एविएशन ने पिछले साल अक्टूबर तक भारत को 09 राफेल विमान सुपुर्द कर दिये थे. पहले तीन विमान इससे भी पहले मार्च में दे दिए गए थे.

ये भी पढ़ें-SC ने यूपी के गैंगस्‍टर को बताया विकास दुबे जैसा खतरनाक, जमानत से इनकार

एयरफोर्स क्रू की ट्रेनिंग
भारत ने उन विमानों को भारत में लाने की बजाए इन विमानों की समुचित ट्रेनिंग के लिए अपने पायलट और क्रू मेंबर्स को अलग-अलग टुकड़ों में फ्रांस भेजा था. इसमें भारतीय वायुसेना के पायलट समेत इंजीनियर और तकनीशियन भी शामिल हैं. इन सभी की अलग अलग बैच में ट्रेनिंग हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading