लाइव टीवी

आरोप लगाने वाले की बेटी ने किया नित्‍यानंद का बचाव, बोली-स्‍वामीजी को फंसाया जा रहा

जनक दवे | News18Hindi
Updated: November 22, 2019, 9:50 PM IST
आरोप लगाने वाले की बेटी ने किया नित्‍यानंद का बचाव, बोली-स्‍वामीजी को फंसाया जा रहा
लोपामुद्रा और नित्यानंदिता ने आश्रम और नित्‍यानंद का बचाव करते हुए इसे हिंदुत्‍व के खिलाफ साजिश बताया है.

नित्‍यानंद (Nityananda) के बारे में खबर है कि वह देश छोड़कर भाग गया है, लेकिन उसके आश्रम में रहने वाली दो लड़कियों लोपामुद्रा और नित्यानंदिता ने आश्रम और नित्‍यानंद का बचाव करते हुए इसे हिंदुत्‍व के खिलाफ साजिश बताया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2019, 9:50 PM IST
  • Share this:
अहमदाबाद. नाबालिग बच्‍चों को बंधक बनाकर रखने और उन्‍हें चंदा जुटाने के काम में लगाने के आरोपों के कारण स्‍वयंभू बाबा नित्‍यानंद (Nityananda) एक बार फिर विवादों में आ गया है. गुजरात पुलिस (Gujarat Police) ने उसके और आश्रम के खिलाफ इस मामले में केस दर्ज कर लिया है. साथ ही उसके आश्रम की दो साधिकाओं को गिरफ्तार कर लिया है. हालांकि खुद नित्‍यानंद (Nityananda) के बारे में खबर है कि वह देश छोड़कर भाग गया है, लेकिन उसके आश्रम में रहने वाली दो लड़कियों लोपामुद्रा और नित्यानंदिता ने आश्रम और नित्‍यानंद का बचाव करते हुए इसे हिंदुत्‍व के खिलाफ साजिश बताया है. इनमें से एक नित्‍यानंद के खिलाफ आरोप लगाने वाले की बेटी है. इसे उसने एक पारिवारिक मुद्दा बताया.

बता दें कि अहमदाबाद के जर्नादन शर्मा ने नित्यानंद के आश्रम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है. इसमें उन्होंने कहा कि मेरी बेटी आश्रम में बंधक है. इसके बाद पुलिस ने बुधवार को नित्यानंद के आश्रम पर छापेमारी कर दो नाबालिगों को छुड़ाया. इसी मामले पर आश्रम की लोपामुद्रा और नित्यानंदिता ने फेसबुक लाइव कर नित्यानंद की सफाई पेश की. लोपामुद्रा जर्नादन शर्मा की बेटी है. दोनों ने कहा, 'जिस तरह की झूठी खबरें चलाई जा रही हैं, हम इस बारे में सारी स्‍थिति साफ कर देंगे कि आखिरकार हुआ क्‍या.' उन्‍होंने कहा, 'जर्नादन खुद स्वामी जी के भक्त रह चुके हैं, जब वह खुद बीमार थे और डॉक्टरों ने उसके लिए उम्मीद छोड़ दी थी, उस समय उनकी पत्नी भुवनेश्वरी नित्यानंद के पास आई थीं, तब उनके आशीर्वाद से ही उनकी जान बची थी. ये बात 2013 की है, जब उनके बच्चे आश्रम में पढ़ते थे.'

दोनों ने पूछा, 'जिसने आपको जीवन दिया, उसके खिलाफ ही आज आप आरोप लगा रहे हैं. ब्‍लैकमेल कर रहे हैं.' नित्‍यानंदिता ने जनार्दन पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा, 'वह आश्रम में रहते समय हेराफेरी करते थे. जब मैंने रोका तो मुझे धमकी दी.' लोपामुद्रा ने आरोप लगाते हुए कहा कि पिता ने मुझसे कहा था कि मैं नित्यानंद के खिलाफ रेप के आरोप लगाऊं. जबकि ऐसा नहीं है. मैं आश्रम का जीवन ही जीना चाहती हूं.'


स्वयंभू बाबा नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है: गुजरात पुलिस
गुजरात पुलिस ने गुरुवार को बताया कि स्वयंभू बाबा नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है. नित्यानंद के खिलाफ फौजदारी मामला दर्ज है. मामले में उसके खिलाफ सबूत जुटाने के लिए पुलिस ने उसकी दो महिला अनुयायियों को भी गिरफ्तार किया है. पुलिस ने बुधवार को अहमदाबाद में अपना आश्रम योगिनी सर्वज्ञपीठम चलाने के लिए बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें बंधक बनाकर अनुयायियों से चंदा जुटाने के काम में लगाने के आरोप में स्वयंभू बाबा स्वामी नित्यानंद के खिलाफ एक मामला दर्ज किया था.

अहमदाबाद (ग्रामीण) के पुलिस अधीक्षक एस. वी. असारी ने बताया कि नित्यानंद विदेश भाग गया है और अगर जरूरत पड़ी तो गुजरात पुलिस उचित माध्यम के जरिए उसकी हिरासत हासिल करेगी. नित्यानंद कर्नाटक में उसके खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने के बाद ही देश छोड़कर भाग गया था और उसे यहां ढूंढना समय की बर्बादी होगी. असारी ने कहा, ‘जरूरत पड़ने पर, हम उचित माध्यम के जरिए उसकी हिरासत हासिल करेंगे. उसके भारत आने के बाद हम यकीनन उसको गिरफ्तार करेंगे.’
Loading...

पुलिस ने मंगलवार को उसकी दो महिला अनुयायियों- साध्वी प्राण प्रियानंद और प्रियातत्व रिद्धि किरण को भी गिरफ्तार किया था. दोनों पर कम से कम चार बच्चों को कथित तौर पर अगवा करने और उन्हें एक फ्लैट में बंधक बनाकर रखने का आरोप है. ग्रामीण अदालत ने बुधवार शाम दोनों को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था और पुलिस उपाधीक्षक (अहमदाबाद ग्रामीण) के. टी. कमरिया उनसे पूछताछ करे रहे हैं. उन्होंने कहा कि पुलिस नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई एक महिला के मामले में भी जांच कर रही है. महिला के पिता जनार्दन शर्मा ने विवेकानंद पुलिस थाने में उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी.

इस बीच, गुजरात के गृह मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा कि मामले में शामिल किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा. उन्होंने कहा कि डीजीपी ने मामले की गहन जांच के लिए संबंधित एसपी को एक टीम का गठन करने का निर्देश दिया है. जडेजा ने कहा, ‘डीजीपी ने मामले की गहन जांच के लिए संबंधित एसपी से एक टीम का गठन करने को कहा है और मामले में संलिप्त हर व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.’

यह भी पढ़ें :

20 डिग्रियों वाला IAS, जो इस्तीफा देकर बना ताकतवर मंत्री
रेलवे के निजीकरण पर पीयूष गोयल ने दिया जवाब, जानिए क्या है उनका कहना
संस्‍कृत की विद्वान डॉ. सलमा महफूज ने कहा- ज्ञान के आड़े नहीं आता धर्म

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 6:10 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...