Home /News /nation /

वीडियो कांफ्रेंसिंग से हो रही थी कर्नाटक हाईकोर्ट की सुनवाई, नहाते हुए दिखा शख्स, नोटिस जारी

वीडियो कांफ्रेंसिंग से हो रही थी कर्नाटक हाईकोर्ट की सुनवाई, नहाते हुए दिखा शख्स, नोटिस जारी

कर्नाटक हाईकोर्ट. (फाइल फोटो)

कर्नाटक हाईकोर्ट. (फाइल फोटो)

Semi-naked person appears during Court Hearing: कर्नाटक हाईकोर्ट में पूर्व मंत्री रमेश जारकीहोली (Ramesh Jarkiholi Sex Scandal) की कथित संलिप्तता वाले सेक्स स्कैंडल मामले में सुनवाई हो रही थी. इस दौरान सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह ने नोटिस किया कि सुनवाई के दौरान एक व्यक्ति अर्धनग्न अवस्था में दिख रहा है. इस मामले पर कोर्ट ने गंभीर एक्शन लिया है.

अधिक पढ़ें ...

    बेंगलुरु. कर्नाटक हाईकोर्ट  ने एक मामले वीडियो कांफ्रेंसिंग सुनवाई के दौरान अर्धनग्न अवस्था में दिखने को लेकर एक शख्स को नोटिस जारी किया है. दरअसल कोर्ट में पूर्व मंत्री रमेश जारकीहोली (Ramesh Jarkiholi Sex Scandal) की कथित संलिप्तता वाले सेक्स स्कैंडल मामले में सुनवाई हो रही थी. इस दौरान सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह ने नोटिस किया कि सुनवाई के दौरान एक व्यक्ति अर्धनग्न अवस्था में दिख रहा है. इंदिरा जयसिंह ने शिकायत की है कि सुनवाई के दौरान उन्हें एक शख्स अर्धनग्न अवस्था में दिखा और वो नहा रहा था. इस मामले पर कोर्ट ने गंभीर एक्शन लिया है.

    कोर्ट ने आदेश दिया है कि उस व्यक्ति की तलाश की जाए. साथ ही कोर्ट ने उस शख्स के लिए नोटिस भी जारी किया है. दरअसल मामले में कई जनहित याचिकाओं पर सुनवाई हो रही थी इसलिए वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान 80 लोग लॉगिन थे.

    मार्च में मंत्री ने दे दिया था इस्तीफा
    दरअसल बीते मार्च महीने में कर्नाटक के मंत्री रमेश जारकीहोली ने सेक्स टेप मामले में उनकी कथित संलिप्तता के आरोपों के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. तत्कालीन सीएम बीएस येडियुरप्पा को लिखे पत्र में जारकीहोली ने लिखा था, ‘मेरे खिलाफ आरोप गलत हैं. निष्पक्ष जांच होनी चाहिए, मैं नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहा हूं.’

    ये भी पढ़ें: अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर आई खुशखबरी, दूसरी तिमाही में 8.4% रही देश की GDP

    ये है मामला
    बता दें इस कथित वीडियो क्लिप में रमेश किसी अज्ञात महिला के साथ अंतरंग होते दिख रहे हैं. इन क्लिप को कन्नड़ समाचार चैनलों में प्रसारित किया गया था. सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश कल्लाहल्ली ने रमेश के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्होंने नौकरी पाने की इच्छुक एक महिला का कथित रूप से यौन उत्पीड़न किया और इस बारे में कुछ भी बताने पर उसे और उसके परिवार को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी.

    जारकीहोली ने आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए से कहा था कि वह ‘सकते’ में हैं और वीडियो शत प्रतिशत फर्जी है. उन्होंने मामले की जांच की मांग की थी.

    Tags: High court, Karnataka

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर