लाइव टीवी

2 बच्चों के परिवार को मिले टैक्स में छूट, शिवसेना सांसद ने राज्यसभा में पेश किया प्राइवेट बिल

News18Hindi
Updated: February 13, 2020, 12:23 PM IST
2 बच्चों के परिवार को मिले टैक्स में छूट, शिवसेना सांसद ने राज्यसभा में पेश किया प्राइवेट बिल
अनिल देसाई

शिवसेना के राज्यसभा सांसद अनिल देसाई (Anil Desai) ने पेश किया बिल, 'जो अपने परिवार में सिर्फ दो बच्चे तक सीमित परिवार को बढ़ावा देगा उन्हें टैक्स, रोज़गार, शिक्षा में भी आगे बढ़ने को लेकर प्रोत्साहित किया जाना चाहिए.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 13, 2020, 12:23 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश दुनिया के सामने सबसे बड़ी समस्या बढ़ती हुई जनसंख्या है. इस जनसंख्या को कंट्रोल करने के लिए शिवसेना के राज्यसभा सांसद अनिल देसाई (Anil Desai) ने एक प्रस्ताव पेश किया है. इस प्रस्ताव के तहत संविधान के अनुच्छेद 47 (Article-47) में संशोधन की बात कही गई है. इसके अनुसार संशोधन में कहा गया, ‘राज्य द्वारा छोटे परिवार को बढ़ावा दिया जाना चाहिए. जो अपने परिवार में दो बच्चे पैदा करने को बढ़ावा देगा उन्हें टैक्स, रोज़गार, शिक्षा में भी आगे बढ़ने को लेकर प्रोत्साहित किया जाना चाहिए.’

देसाई ने कहा, "यह सिर्फ एक विचार है जिसे मैंने पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे के साथ शेयर किया है. उच्च सदन में विधेयक पेश करने के लिए महाराष्ट्र के सीएम और पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे की सहमति थी.' अनिल देसाई के इस बिल पर बजट सत्र का दूसरा हिस्सा शुरू होने पर चर्चा होगी. बता दें कि बजट सत्र में अभी ब्रेक चल रहा है.

प्राइवेट मेंबर के तौर पर पेश किया बिल
देसाई ने प्राइवेट मेंबर के तौर पर सदन में यह बिल पेश किया है. संसद में कोई भी सांसद प्राइवेट बिल पेश कर सकता है जिसे शुक्रवार को लाया जाता है. बजट सत्र के पहले हिस्से के आखिरी दिन अनिल देसाई ने इस बिल को पेश किया. इस तरह के बिल पहले भी संसद में लाए गए हैं लेकिन राजनीतिक दलों के कारण पास नहीं हो पाए. उनका कहना होता है कि इस तरह के बिल से मुस्लिमों को निशाना बनाया जा रहा है यह कानून मुस्लिम विरोधी है.



उन्होंने कहा कि बढ़ती जनसंख्या को ध्यान में रखते हुए बिल तैयार किया गया था, जिसे राष्ट्रीय नीति की आवश्यकता थी और इसे देश में जनसांख्यिकीय परिवर्तनों को देखते हुए लागू किया जाना चाहिए. यह एक संवैधानिक प्रावधान है. यदि यह बिल पास होता है तो संविधान में एक नया प्रावधान - अनुच्छेद 47A जुड़ जाएगा.



ये भी पढ़ें: बालासाहेब थोराट बोले- आरक्षण समाप्त करने का प्रयास कर रही है RSS और बीजेपी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 13, 2020, 10:56 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading