vidhan sabha election 2017

शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 92 अंक लुढ़का

News18Hindi
Updated: November 14, 2017, 6:45 PM IST
शेयर बाजार में गिरावट, सेंसेक्स 92 अंक लुढ़का
News18Hindi
Updated: November 14, 2017, 6:45 PM IST
देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को गिरावट दर्ज की गई. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 91.69 अंकों की गिरावट के साथ 32,941.87 पर और निफ्टी 38.35 अंकों की गिरावट के साथ 10,186.60 पर बंद हुआ. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 43.53 अंकों की गिरावट के साथ 32,990.03 पर खुला और 91.69 अंकों या 0.28 फीसदी की गिरावट के साथ 32,941.87 पर बंद हुआ. दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 33,126.55 के ऊपरी और 32,907.11 के निचले स्तर को छुआ.

सेंसेक्स के 30 में 12 शेयरों में तेजी रही. हीरो मोटो कॉर्प (1.96 फीसदी), बजाज ऑटो (1.71 फीसदी), एक्सिस बैंक (1.57 फीसदी), एम एंड एम (1.34 फीसदी) और रिलायंस (1.26 फीसदी) प्रमुख रहे.

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में लार्सेन एंड टूब्रो (2.46 फीसदी), पॉवर ग्रिड (2.20 फीसदी), एशियन पेंट्स (1.77 फीसदी), टीसीएस (1.53 फीसदी) और ओएनजीसी (1.25 फीसदी) प्रमुख रहे.

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में भी गिरावट रही. बीएसई का मिडकैप सूचकांक 36.25 अंकों की गिरावट के साथ 16,494.72 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 31.17 अंकों की गिरावट के साथ 17,539.60 पर बंद हुआ.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 1.55 अंकों की गिरावट के साथ सुबह 10,223.40 पर खुला और 38.35 अंकों या 0.38 फीसदी की गिरावट के साथ 10,186.60 पर बंद हुआ. दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,248.00 के ऊपरी और 10,175.55 के निचले स्तर को छुआ.

बीएसई के 19 में से पांच सेक्टरों- रियल्टी (0.74 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (0.64 फीसदी), वाहन (0.23 फीसदी), उपभोक्ता गैर-अनिवार्य वस्तु एवं सेवाएं (0.14 फीसदी) और ऊर्जा (0.04 फीसदी) में तेजी रही.

बीएसई के गिरावट वाले सेक्टरों में प्रमुख रहे- पूंजीगत वस्तुएं (1.41 फीसदी), दूरसंचार (1.21 फीसदी), तेल और गैस (0.88 फीसदी), उद्योग (0.70 फीसदी) और उपभोक्ता सेवाएं (0.64 फीसदी). बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा। कुल 1,141 शेयरों में तेजी और 1,556 में गिरावट रही, जबकि 150 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ.
First published: November 14, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर