Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    बड़ी खबर : भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ने शुरू किया कोविड-19 वैक्सीन का उत्पादन

    सीरम इंस्टिट्यूट ने शुरू किया कोरोना वैक्सीन का उत्पादन. (सांकेतिक तस्वीर)
    सीरम इंस्टिट्यूट ने शुरू किया कोरोना वैक्सीन का उत्पादन. (सांकेतिक तस्वीर)

    सीरम इंस्टीट्यूट वैक्सीन (Serum Institute of India) उत्पादन के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के कोरोना वैक्सीन प्रोजेक्ट में पार्टनर है और भारत में इस वैक्सीन का ट्रायल करवा रहा है.

    • News18Hindi
    • Last Updated: September 22, 2020, 7:00 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने भारत में कोविड-19 वैक्सीन कैंडिडेट का उत्पादन शुरू कर दिया है. सीरम इंस्टिट्यूट वैक्सीन उत्पादन के मामले में दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी है. सीरम इंस्टीट्यूट ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के कोरोना वैक्सीन प्रोजेक्ट में पार्टनर है और भारत में इस वैक्सीन का ट्रायल करवा रहा है.

    AstraZeneca के साथ सीरम इंस्टीट्यूट का टाई-अप
    पुणे के सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने पहले ही ऑक्सफोर्ड के प्रोजेक्ट में कौलैबरेशन कर रखा है. अगर ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन की कामयाब हो जाती है तो भारत में इसकी उपलब्धता में कोई दिक्कत नहीं आने वाली है. इस कंपनी ने AstraZeneca नाम की उस कंपनी के साथ टाई-अप कर रखा है जो ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ मिलकर वैक्सीन तैयार कर रही है. मीडिया में इस तरह की खबरें आ चुकी हैं कि ऑक्सफोर्ड का प्रोजेक्ट सफल होने के साथ सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया वैक्सीन 100 करोड़ डोज तैयार करेगी. इनमें से 50 प्रतिशत हिस्सा भारत के लिए होगा और 50 प्रतिशत गरीब और मध्यम आय वाले देशों के लिए.

    कौन हैं अदर पूनावाला
    अदर पूनावाला (Adar Poonawalla) इस वक्त सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ हैं. उनके पिता डॉ. साइरस पूनावाला ने ही सीरम इंस्टीट्यूट की स्थापना साल 1966 में की थी. ये कंपनी पूनावाला ग्रुप का हिस्सा है. अदर पूनावाला ने यूनाइटेड किंगडम की युनिवर्सिटी ऑफ वेस्टमिंस्टर से पढ़ाई की है. अदर पूनावाला ने अपने पिता की कंपनी 2001 में जॉइन की थी. माना जाता है कि सीरम वेस्टमिनिस्टर को आगे बढ़ाने और इसकी इसकी इंटरनेशनल ग्रोथ में उनका बहुत बड़ा योगदान है. 2011 में वो कंपनी के सीईओ बने.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज