केरल में बाढ़ के कहर से निपटने के लिए सामने आए कई राज्य

केरल में बाढ़ के कहर से निपटने के लिए सामने आए कई राज्य
केरल के बाढ़ की फाइल फोटो- AP

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस आपदा पर चिंता जताते हुए राहत एवं बचाव कार्यों के लिए आधुनिक उपकरणों से लैस दमकल कर्मियों की एक विशेष टीम रवाना किया है .

  • Share this:
भारी बारिश के चलते आई भीषण बाढ़ से हुई तबाही के बाद केरल की मदद के लिए अब देश के कई दूसरे राज्य सामने आ रहे हैं. राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने बाढ़ प्रभावित केरल के लिए 10 करोड़ रुपये की सहायता राशि की घोषणा की. इसके साथ ही राजस्थान राज्य आपदा प्रबंधन बल (एसडीआरएफ) के 27 सदस्यीय दल को भी राहत कार्य के लिए केरल रवाना किया गया.

मध्य प्रदेश सरकार ने भी 10 करोड़ रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया. वहीं तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी ने राहत कार्यों के लिए पांच करोड़ रुपये की सहायता राशि और दूध, चावल समेत अन्य राहत सामग्रियां भेजने की घोषणा की. साथ ही मुख्यमंत्री ने जरूरी दवाईयों और चिकित्सकों की एक टीम को भी फौरन यहां भेजे जाने की घोषणा की.

केरल बाढ़- 'वहां हिन्दू खाते रहे बीफ तो आती ही रहेगी ऐसी विपदा'



ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस आपदा पर चिंता जताते हुए राहत एवं बचाव कार्यों के लिए आधुनिक उपकरणों से लैस दमकल कर्मियों की एक विशेष टीम रवाना किया है . वहीं गोवा के पर्यटन मंत्री मनोहर अजगांवकर ने बचाव निधि में अपना एक महीने का वेतन दान करने की बात कही. कांग्रेस की पंजाब इकाई के सांसद एवं विधायक ने भी एक-एक महीने का वेतन दान देने की बात कही.



रेलवे भी मदद के लिए आगे आया है. रेलवे ने सभी सरकारी और निजी इकाइयों को बाढ़ प्रभावित केरल तक राहत सामग्री नि:शुल्क पहुंचाने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए . पश्चिम रेलवे ने बाढ़ प्रभावित केरल के लिए नौ लाख लीटर पेयजल के साथ विशेष ट्रेन को रवाना किया. इसके अलावा अन्य राज्यों ने भी केरल के लिए सहायता की घोषणा की है .

केरल बाढ़: हज़ारों लोगों को अब भी सुरक्षित निकाले जाने का इंतजार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading