अपना शहर चुनें

States

NSG ने शुरू की इजरायली दूतावास के पास हुए धमाके की जांच, पुलिस के हाथ अब तक खाली

राजधानी दिल्ली में 5 एपीजे अब्दुल कलाम रोड के नजदीक शुक्रवार की शाम को धमाका हुआ था. (ANI)
राजधानी दिल्ली में 5 एपीजे अब्दुल कलाम रोड के नजदीक शुक्रवार की शाम को धमाका हुआ था. (ANI)

Delhi Blast: भारत और इजरायल के बीच राजनयिक संबंधों की 29वीं सालगिरह पर हुए इस धमाके में कोई भी घायल नहीं हुआ है. विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इजरायल में अपने समकक्ष गाबी अश्केनाजी से बातचीत कर भारत में मौजूद राजनयिकों की सुरक्षा का आश्वासन दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2021, 5:05 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली स्थित इजरायली दूतावास के बाहर हुए बम धमाके की जांच नेशनल सिक्युरिटी गार्ड यानि एनएसजी ने शुरू कर दी है. एनएसजी घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच कर रही है. बीते शुक्रवार को दूतावास के पास एक धमाका हुआ था. फिलहाल मामले की जांच कई सुरक्षा एजेंसियां और पुलिस कर रही थी. हालांकि, 12 घंटे से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी पुलिस को बड़ी सफलता नहीं मिली थी.

बता दें कि दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ (स्पेशल सेल) के दल ने शनिवार सुबह इजराइली दूतावास के निकट उस स्थल का दौरा किया, जहां आईईडी विस्फोट हुआ था. अधिकारियों ने बताया कि विशेष प्रकोष्ठ का दल विस्फोट की जांच कर रहा है और इस संबंधी सबूत एकत्र कर रहा है. उल्लेखनीय है कि दिल्ली के लुटियंस इलाके में औरंगजेब रोड पर स्थित इजराइली दूतावास के निकट शुक्रवार शाम मामूली आईईडी विस्फोट हुआ था. दिल्ली पुलिस ने बताया कि आईईडी में शाम पांच बजकर पांच मिनट पर विस्फोट हुआ और इस दौरान कोई हताहत नहीं हुआ एवं जान-माल का किसी प्रकार का नुकसान नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें: दिल्ली ब्लास्ट: मौके से मिले लैटर का दावा- लोगों को नुकसान पहुंचाना मकसद नहीं



ये भी पढ़ें: दिल्ली: धमाके के समय इलाके में काम कर रहे थे 45000 मोबाइल फोन, पुलिस को मिला डेटा
सूत्रों ने शुक्रवार को बताया कि विस्फोट स्थल पर जांचकर्ताओं को इजराइली दूतावास का पता लिखा एक लिफाफा मिला है. हालांकि, उन्होंने लिफाफे में मिली टिप्पणी और इससे संबंधित कोई भी जानकारी साझा नहीं की. धमाका उस समय समय हुआ, जब वहां से कुछ किलोमीटर दूर गणतंत्र दिवस समारोहों के समापन के तौर पर होने वाला 'बीटिंग रीट्रिट' कार्यक्रम चल रहा था, जिसमें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वैकेंया नायडू और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मौजूद थे.

विदेश मंत्री एस जयशंकर ने घटना को लेकर इजराइल के विदेश मंत्री गाबी अश्केनाज से फोन पर बात कर उन्हें इजराइल के राजयनिकों और उसके मिशनों की पूरी सुरक्षा का आश्वासन दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज