RSS के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया तो SGPC पर बरसे बीजेपी नेता

बीजेपी प्रवक्ता आरपी सिंह ने एसजीपीसी के कदमों को लेकर सवाल पूछे हैं. (फाइल फोटो)

बीजेपी प्रवक्ता आरपी सिंह ने एसजीपीसी के कदमों को लेकर सवाल पूछे हैं. (फाइल फोटो)

भाजपा के प्रवक्ता आरपी सिंह (RP Singh) ने दावा किया, ‘यह आरएसएस है जिसने ‘घर वापसी’ अभियान चलाया और धर्म परिवर्तन करने वालों को वापस लाया.’ शिरोमणि अकाली दल की नेता बीबी जागीर कौर की अध्यक्षता वाली एसजीपीसी ने संभवत: पहली बार आरएसएस के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. आरएसएस (RSS) के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने के लिए बृहस्पतिवार को भाजपा के प्रवक्ता आरपी सिंह ने एसजीपीसी (SGPC) पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि शिअद नीत समिति सिखों को ईसाई बनने से रोकने में विफल रही. उन्होंने कहा कि संघ ने धर्म परिवर्तन करने वालों के लिए ‘घर वापसी’ कार्यक्रम चलाया. शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के जनरल हाउस (आम सभा) ने मंगलवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के खिलाफ एक प्रस्ताव पारित किया और आरोप लगाया कि यह ‘हिंदू राष्ट्र’ का निर्माण करने का प्रयास कर रहा है.

प्रस्ताव पर प्रतिक्रिया देते हुए सिंह ने कहा, ‘एसजीपीसी पंजाब में सिखों को ईसाई धर्म अपनाने से रोकने में पूरी तरह विफल रही है. अपनी विफलता को छिपाने के लिए वे हिंदू राष्ट्र का गलत मुद्दा उठाते हैं. मैं एसजीपीसी अध्यक्ष को चुनौती देता हूं कि वह किसी हिंदू द्वारा किसी सिख को धर्म परिवर्तन का लालच देने का एक भी मामला बता दें.’ सिंह खुद भी सिख हैं और उन्होंने पूछा कि मिशनरियों द्वारा सिखों को लालच देने पर एसजीपीसी ने कितने बार बयान जारी किए या कोई कदम उठाया और कितने धर्म परिवर्तन करने वाले सिखों को सिख धर्म में वापस लाया गया.

यह आरएसएस है जिसने ‘घर वापसी’ अभियान चलाया 

उन्होंने दावा किया, ‘यह आरएसएस है जिसने ‘घर वापसी’ अभियान चलाया और धर्म परिवर्तन करने वालों को वापस लाया.’ शिरोमणि अकाली दल की नेता बीबी जागीर कौर की अध्यक्षता वाली एसजीपीसी ने संभवत: पहली बार आरएसएस के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज