लाइव टीवी

दिल्ली: पराली से होने वाला प्रदूषण घटा, फिर भी हवा हो सकती है खराब, जानें वजह

भाषा
Updated: November 2, 2019, 10:30 PM IST
दिल्ली: पराली से होने वाला प्रदूषण घटा, फिर भी हवा हो सकती है खराब, जानें वजह
दिल्ली में पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण में कमी आई है (फोटो क्रेडिट- PTI)

दिल्ली (Delhi) में पराली जलाने से होने वाला प्रदूषण (Pollution) घटकर 17% पर आ गया है लेकिन फिर भी वायु गुणवत्ता (AQI) अब भी ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है. इसकी वजह हवा की मंद गति और प्रदूषकों के दूर होने की विपरीत परिस्थितियां हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) की जहरीली हवा में पराली जलाने से होने वाले प्रदूषण की हिस्सेदारी शुक्रवार के 44% (इस मौसम में सबसे अधिक) से घटकर शनिवार को 17% पर आ गई. यह जानकारी सरकार की वायु गुणवत्ता निगरानी इकाई ‘सफर’ (SAFAR) के आंकड़ों से मिली है.

हालांकि, दिल्ली की वायु गुणवत्ता (AQI) अब भी ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है. इसकी वजह हवा की मंद गति (Slow Velocity) और प्रदूषकों के दूर होने की विपरीत परिस्थितियां हैं.

फिर भी रविवार को हवा हो सकती है बहुत खराब
सफर (SAFAR) की रिपोर्ट के मुताबिक, पराली जलाने (Stubble Burning) की हिस्सेदारी कम होने और हवाओं की दिशा बदलने से रविवार को हवा की गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में आने की उम्मीद है.

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘‘गत 24 घंटे में हरियाणा एवं पंजाब (Haryana and Punjab) में पराली जलाने की घटनाओं में प्रभावी तरीके से कमी आई है और यह 31 अक्टूबर को सबसे अधिक 3,178 घटनाओं से कम होकर 268 पर आ गई है. ऊपरी हवाओं की गति उत्तर की ओर होने और पराली जलाने की घटनाओं में कमी आने की वजह से शनिवार को दिल्ली के पीएम 2.5 प्रदूषक में उल्लेखनीय कमी आई है और यह 17% के स्तर पर पहुंच गया है.’’

सफर ने कहा, पश्चिमी विक्षोभ (Western Disturbances) और जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के ऊपर बनी चक्रवाती परिस्थितियों का दिल्ली की वायु गुणवत्ता पर सकारात्मक असर पड़ेगा क्योंकि इससे हवाओं की गति बढ़ेगी और कुछ इलाकों में बारिश होगी जिससे प्रदूषकों में कमी आएगी.

5 नवम्बर तक बंद रहेंगे स्कूल
Loading...

राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण के बढ़ते स्तर को देखते हुए सरकार पहले ही पांच नवम्बर तक सभी स्कूलों के बंद रहने का एलान कर चुकी है. वहीं पांच नवम्बर तक सभी प्रकार के निर्माण कार्यों पर भी रोक लगी है. पर्यावरण प्रदूषण (Prevention and control) प्राधिकरण (EPCA) ने दिल्ली-एनसीआर में जन स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा भी की है. पूरी ठंड में पटाखे फोड़ने पर भी प्रतिबंध है.

यह भी पढ़ें: Delhi Pollution: हवा में प्रदूषण स्तर हुआ कुछ कम, AQI अब भी गंभीर स्तर पर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2019, 8:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...