लाइव टीवी
Elec-widget

ट्रोल होने के बाद शशि थरूर ने शेयर की नेहरू की एक और तस्वीर, बोले- ये वाली ऑथेंटिक

News18Hindi
Updated: September 25, 2019, 11:39 AM IST
ट्रोल होने के बाद शशि थरूर ने शेयर की नेहरू की एक और तस्वीर, बोले- ये वाली ऑथेंटिक
इस तस्वीर को शेयर करते हुए थरूर ने लिखा है कि पिछली तस्वीर को लेकर काफी शोर-शराबा मचा था.

पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने पंडित जवाहर लाल नेहरू (jawaharlal Nehru) की एक और तस्वीर शेयर की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 25, 2019, 11:39 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस सांसद शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने पंडित जवाहर लाल नेहरू (jawaharlal Nehru) की बुधवार को एक और तस्वीर शेयर की है. इस तस्वीर को शेयर करते हुए थरूर ने लिखा है कि पिछली तस्वीर को लेकर काफी शोर-शराबा मचा था. उन्होंने लिखा कि ये 1949 में नेहरू के अमेरिकी दौरे की ऑथेंटिक तस्वीर है. विसकॉन्सिन यूनिवर्सिटी में पंडित जवाहर लाल नेहरू को सुनने के लिए नवंबर 1949 में काफी भीड़ इकट्ठा हुई थी.

इसके बाद एक और ट्वीट कर शशि थरूर ने लिखा है कि जवाहर लाल नेहरू एकमात्र भारतीय प्रधानमंत्री हैं जिन्हें एयरपोर्ट पर रिसीव करने अमेरिकी राष्ट्रपति खुद पहुंचे थे. ऐसा दो बार हुआ. पहली बार 1949 में, जब अमेरिकी राष्ट्रपति हैरी एस ट्रूमैन नेहरू को रिसीव करने पहुंचे और फिर 1961 में जॉन एफ कैनेडी ने उन्हें रिसीव किया था.


ये है मामला
Loading...

दरअसल 'Howdy Modi' कार्यक्रम पर कटाक्ष कर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए थे. थरूर ने अपने ट्विटर हैंडलर में पंडित जवाहर लाल नेहरू और इंदिरा गांधी की एक फोटो शेयर की. उन्होंने फोटो कैफ्शन में लिखा यह फोटो अमेरिका की है. इस पर लोगों की प्रतिक्रयाएं आने लगीं और वह ट्रोल हो गए, इसके कुछ ही देर बाद थरूर ने सफाई देते हुए लिखा कि शायद यह फोटो सोवियत रूस की है.

सफाई में क्या बोले थरूर
ट्रोल होने के थोड़ी देर बाद थरूर ने स्पष्टीकरण दिया, लिखा, 'मुझे यह तस्वीर बताया गया (भेजी गई) कि शायद यह तस्वीर सोवियत रूस (Soviet Russia) यात्रा की है, अमेरिका की नहीं. अगर ऐसा है तो भी, इससे संदेश पर कोई फर्क नहीं पड़ता. सच्चाई यह है कि पूर्व प्रधानमंत्रियों ने भी विदेश में लोकप्रियता का आनंद लिया है. उन्होंने लिखा जब पीएम मोदी (PM Modi) का सम्मान हुआ वह भारत के प्रधानमंत्री का सम्मान था.'

फोटो के बारे में यह किया था दावा
अमेरिकी लोगों की अपने आप उमड़ी अत्याधिक उत्साही भीड़ देखिए, बिना किसी विशेष जनसंपर्क अभियान, अप्रवासी भारतियों (NRI) की बिना प्रचार जुटी भीड़. ' इस पोस्ट में थरूर से चूक हो गई. सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इस ओर उनका ध्यान दिलाया कि यह फोटो नेहरू और इंदिरा गांधी की सोवियत रूस यात्रा की है.

इस फोटो को किया था ट्वीट


इंदिरा गांधी का नाम लिखा 'इंडिया गांधी'
थरूर ने नेहरू और इंदिरा गांधी की जो तस्वीर ट्वीट की थी. उसमें दोनों लोगों के हुजूम के बीच एक खुले वाहन में हाथ हिलाकर उनका अभिवादन करते दिख रहे हैं. बहरहाल तस्वीर के साथ इंदिरा गांधी का नाम ‘इंडिया गांधी’ लिखने के लिए भी लोगों ने उन्हें ट्रोल किया.
ये भी पढ़ें:

महिलाओं को मार्गदर्शन देने की 'औकात' पुरुषों में नहीं : मोहन भागवत

महानायक अमिताभ बच्चन को मिला दादा साहेब फाल्के पुरस्कार, इस तरह हुई घोषणा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 25, 2019, 11:21 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...