लाइव टीवी

पाकिस्‍तान ने सर्बिया में उठाया कश्‍मीर मुद्दा तो भड़के शशि थरूर ने लगाई क्‍लास

News18Hindi
Updated: October 13, 2019, 11:00 PM IST
पाकिस्‍तान ने सर्बिया में उठाया कश्‍मीर मुद्दा तो भड़के शशि थरूर ने लगाई क्‍लास
शशि थरूर ने एशियाई संसदीय सभा में पाकिस्तान को लताड़ा है (फाइल फोटो)

शशि थरूर (Shahsi Tharoor) ने एशियाई संसदीय सभा (APA) में पाकिस्तान (Pakistan) की सीनेट के चेयरमैन के एक पत्र का जवाब देते हुए ऐसा किया. इस पत्र में बैठक न होने के लिए जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) में हुए बदलावों को जिम्मेदार ठहराया गया था. बता दें कि यह बैठक दिसंबर, 2019 में होनी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 13, 2019, 11:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने एशियाई संसदीय सभा (Asian Parliamentary Assembly) की मीटिंग में गैरजरूरी तरीके से कश्मीर (Kashmir) का जिक्र करने के लिए पाकिस्तान (Pakistan) को जमकर लताड़ा है. इस सभा का आयोजन सर्बिया (Serbia) की राजधानी बेलग्रेड में किया गया था.

पाकिस्तान (Pakistan) ने यहां पर कहा कि वह इस मीटिंग का आयोजन अपने यहां पर नहीं करवा सकता है. इसके बाद पाकिस्तान ने ऐसा न कर पाने के पीछे जो वजह बताई वह हास्यास्पद थी. पाकिस्तान ने कहा कि ऐसा वह कश्मीर (Kashmir) के मौजूदा हालातों के मद्देनजर नहीं कर पाएगा. इस मुद्दे पर थरूर भड़क गए और उन्होंने पाकिस्तान के बयान को पैंतरा बताते हुए कहा कि वह भारत के आंतरिक मामले का हवाला देकर इस मंच के राजनीतिकरण का प्रयास कर रहा है.

'भारत के आंतरिक मामले का अनावश्यक राजनीतिकरण किया'
सूत्रों ने कहा कि अंतर संसदीय संघ की वार्षिक बैठक से इतर एशियाई संसदीय सभा में थरूर ने पाकिस्तानी सीनेट के अध्यक्ष के एक पत्र की निंदा की जिसमें उन्होंने पाकिस्तान द्वारा दिसंबर 2019 में तय APA पूर्ण सत्र की मेजबानी करने में नाकामी के लिये जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) की गतिविधियों को जिम्मेदार बताया.

शशि थरूर (Shashi Tharoor) ने पाकिस्तान (Pakistan) की सीनेट के अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने भारत के आंतरिक मामले का संदर्भ “अनावश्यक रूप से सभा के राजनीतिकरण के लिये किया.”

थरूर ने पाक को जमकर लताड़ा
पूर्व विदेश राज्य मंत्री ने कहा, “जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) भारत का अभिन्न अंग है. जम्मू-कश्मीर की स्थिति में ऐसा कुछ भी नहीं जो किसी भी रूप में उनके देश में रहने और काम करने की स्थिति को प्रभावित करे, इस्लामाबाद (Islamabad) की तो बात ही छोड़िये.”
Loading...

शशि थरूर ने कहा, “भारत के आंतरिक मामले उसकी सीमाओं से बाहर नहीं जाते और पड़ोसियों को प्रभावित नहीं करते.”

तिरुवनंतपुरम (Thiruvananthapuram) के सांसद ने कहा, “इस परिस्थिति में यह दुर्भाग्यपूर्ण और हैरान करने वाला है कि वह यह उम्मीद करते हैं कि यह गरिमापूर्ण सभा दिसंबर 2019 में एपीए के पूर्ण सत्र की मेजबानी करने की अक्षमता या अनिच्छा के लिये इस तरह के बहाने को स्वीकार करेगी.”

भारत ने कई बार नाकाम किया पाकिस्तान का प्रयास
पाकिस्तान (Pakistan) ने कई बहुपक्षीय बैठकों के दौरान कश्मीर (Kashmir) का मुद्दा उठाने की कोशिश की लेकिन भारत ने उसके प्रयासों को नाकाम कर दिया. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला (Om Birla) के नेतृत्व में भारतीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल 13 से 17 अक्टूबर को सर्बिया में होने वाली अंतर संसदीय संघ (IPU) की 141वीं सभा में भाग लेने के लिये बेल्ग्रेड में है.

सचिवालय ने कहा कि भारतीय संसदीय प्रतिनिधिमंडल में शशि थरूर (Shashi Tharoor), कनिमोई, वानसुक सीयम, राम कुमार वर्मा और सस्मित पात्रा समेत कई दलों के सांसद शामिल हैं.

(भाषा इनपुट के साथ)

यह भी पढ़ें: महाबलीपुरम बीच पर PM मोदी के ‘प्लॉगिंग’ को लेकर कांग्रेस ने उठाए सवाल

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 13, 2019, 8:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...