BJP में रहते बुलंद था 'शॉटगन' का जलवा, पार्टी छोड़ी तो खुद हारे, पत्नी हारीं और अब बेटा

एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा को शॉटगन के नाम से भी जाना जाता है. (फाइल फोटो)
एक्टर शत्रुघ्न सिन्हा को शॉटगन के नाम से भी जाना जाता है. (फाइल फोटो)

बीजेपी में अपना पूरा राजनीतिक जीवन गुजारने वाले शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने जब कांग्रेस ज्वाइन तब से उनके हाथ कोई चुनावी जीत नहीं लगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 10, 2020, 10:40 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा (LUV SINHA) ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) में अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत हार के साथ की है. राज्य की बांकीपुर विधानसभा सीट (Bankipur assembly seat)
से उन्हें बीजेपी के प्रत्याशी नितिन नवीन (NITIN NABIN) ने बड़े अंतर से हराया. कांग्रेस के प्रत्याशी लव सिन्हा 14332 (28.61%) वोट मिले जबकि नितिन नवीन को 31226 (62.34%) वोट हासिल हुए. माना जा रहा था कि लव सिन्हा को शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) की 'बिहारी बाबू' इमेज का फायदा मिलेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

बीजेपी में जीते कई चुनाव
दरअसल बीजेपी में अपना पूरा राजनीतिक जीवन गुजारने वाले शत्रुघ्न सिन्हा ने जब से कांग्रेस ज्वाइन की है तब से उनके हाथ कोई चुनावी जीत नहीं लगी. बीजेपी में रहते हुए सिन्हा ने न सिर्फ कई बार चुनाव जीते बल्कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में वो केंद्रीय मंत्री के पद पर भी रहे.
2019 के लोकसभा चुनाव में 'शॉटगन' के नाम से मशहूर सिन्हा पटनासाहिब सीट पर बीजेपी के रविशंकर प्रसाद के सामने थे. सिन्हा 2014 में इस सीट पर बड़े अंतर से चुनाव जीत चुके थे. उन्हें भरोसा था कि उनकी जीत होगी. लेकिन जब नतीजे आए तो शत्रुघ्न सिन्हा की तकरीबन तीन लाख वोटों से हार हुई.





लखनऊ से पत्नी भी हार गई थीं चुनाव, जीते थे राजनाथ सिंह
इसी तरह उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से उनकी पत्नी पूनम सिन्हा चुनाव मैदान में थीं. उनके सामने बीजेपी के कद्दावर नेता राजनाथ सिंह थे. यूपी में सपा-बसपा महागठबंधन की वजह से माना जा रहा था कि पूनम सिन्हा चुनाव में कड़ी टक्कर देंगी. लेकिन लखनऊ में उनकी भी बुरी हार हुई. राजनाथ सिंह इस चुनाव में साढ़े तीन लाख से भी ज्यादा वोटों से विजयी हुए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज