शिवसेना MLA का उद्धव ठाकरे को पत्र, BJP से हाथ मिलाएं; संजय राउत बोले- इसमें मैं क्या कहूं

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे. (एएनआई फाइल फोटो)

Shiv Sena MLA Letter Uddhav Thackeray: सरनाइक ने कथित तौर पर आरोप लगाया है कि शिवसेना के नेताओं और कार्यकर्ताओं को एनसीपी एवं कांग्रेस अपनी पार्टी में शामिल करने की कोशिश में लगी है.

  • Share this:

    मुंबई. शिवसेना विधायक और प्रवक्ता प्रताप सरनाइक (Pratap Sarnaik) ने पार्टी अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखते हुए उनसे आगामी बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) और ठाणे महानगरपालिका (टीएमसी) चुनाव के मद्देनजर भाजपा से हाथ मिलाने को कहा है. विधायक ने अपने पत्र में कहा, 'मुंबई, ठाणे, पुणे और नागपुर सहित 10 शहरों में होने वाले आगामी नगरपालिका चुनावों में शिवसेना को भाजपा के साथ हाथ मिलाना चाहिए.'


    पत्र में सरनाइक ने इस बात को रेखांकित किया है कि शिवसेना ने जहां कांग्रेस और राकांपा (एनसीपी) की मदद से सरकार बनाई है, हालांकि ऐसा करके इसने सिर्फ कांग्रेस और एनसीपी की मदद की है. सरनाइक ने कथित तौर पर आरोप लगाया है कि शिवसेना के नेताओं और कार्यकर्ताओं को एनसीपी एवं कांग्रेस अपनी पार्टी में शामिल करने की कोशिश में लगी है, जिसके परिणामस्वरूप पार्टी कमजोर हो रही है.


    शिवसेना सांसद प्रताप सरनाइक ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को पत्र में लिखा, 'एनसीपी और कांग्रेस प्रदेश में अपना मुख्यमंत्री चाहते हैं. कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ना चाहती है और एनसीपी इस कोशिश में लगी है कि वह शिवसेना से नेताओं को तोड़ सके. ऐसा लगता है पर्दे के पीछे से केंद्र का समर्थन मिल रहा है, एनसीपी नेताओं के पीछे कोई केंद्रीय एजेंसी नहीं है.'


    वहीं, शिवसेना विधायक के पत्र पर संजय राउत ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'एक विधायक ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है. मुझे इस बारे में क्या कहना चाहिए? हालांकि, अगर पत्र सही है, तो उन्होंने एक बहुत ही महत्वपूर्ण मुद्दा उठाया है कि महा विकास अघाड़ी के विधायकों को परेशान किया जा रहा है.'


    शिवसेना ने साधा था कांग्रेस पर निशाना
    बीते 17 जून को महाराष्ट्र में कांग्रेस के अगला विधानसभा चुनाव अकेले अपने दम पर लड़ने की इच्छा जताने पर सत्तारूढ़ सहयोगी दल शिवसेना ने कहा था कि 2024 के चुनाव अभी बहुत दूर हैं और उसने पूछा कि क्या मध्यावधि चुनाव कराने की कोई योजना है. पार्टी के मुखपत्र 'सामना' में प्रकाशित एक संपादकीय में उसने यह भी कहा कि चूंकि सभी प्रमुख राजनीतिक दलों ने अकेले चुनाव लड़ने की बात करनी शुरू कर दी है, तो शिवसेना और राकांपा को महाराष्ट्र के हित में अगला चुनाव एक साथ मिलकर लड़ना होगा. शिवसेना ने कहा कि कांग्रेस महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार में एक महत्वपूर्ण घटक दल है, लेकिन वह तीसरे स्थान पर है.




    गौरतलब है कि महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख नाना पटोले ने घोषणा की है कि उनकी पार्टी अगला विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़ेगी और उन्होंने मुख्यमंत्री के नाम का भी ऐलान कर दिया. उन्होंने यह भी कहा कि अगर पार्टी ने अनुमति दी तो वह खुद मुख्यमंत्री पद का अगला चेहरा होंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.