अपना शहर चुनें

States

विपक्ष ही कुछ सार्वजनिक स्थलों को खोलने की मांग कर रहा था: संजय राउत

महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों को खोलने के लिए बीजेपी ने पिछले साल प्रदर्शन किया था.  (File pic)
महाराष्ट्र में धार्मिक स्थलों को खोलने के लिए बीजेपी ने पिछले साल प्रदर्शन किया था. (File pic)

Coronavirus in Maharashtra: महाराष्ट्र में तीन महीने बाद पहली बार शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं.

  • Share this:
पुणे. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बीच शिव सेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने शनिवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सभी सार्वजनिक स्थलों को खोलने के पक्ष में नहीं थे. उन्होंने कहा कि यह विपक्ष ही था, जो प्रतिबंधों को हटाने की मांग कर रहा था. राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री ने स्थिति की समीक्षा की थी और वह महामारी के मद्देनजर कुछ खास स्थलों से प्रतिबंधों को हटाने के इच्छुक नहीं थे. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन सरकार ने विपक्षी पार्टियों की मांगों की वजह से कुछ स्थानों को खोला.’’

वह प्रत्यक्ष तौर पर राज्य के धार्मिक स्थलों को खोलने के लिए भाजपा द्वारा पिछले साल किए गए विरोध प्रदर्शन का हवाला दे रहे थे. महाराष्ट्र में तीन महीने बाद पहली बार शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं. वहीं उनसे जब 23 वर्षीय एक महिला की ‘आत्महत्या’ के मामले में शिव सेना मंत्री संजय राठौड़ से जुड़े आरोपों के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि जांच जारी है और मुख्यमंत्री राठौड़ के बारे में उचित निर्णय लेंगे.

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज