Home /News /nation /

shivsena leader aditya thackeray said who betrays never win lak

आदित्य ठाकरे की बागी नेताओं को चुनौती, कहा- जो दगाबाजी करते हैं, वे कभी नहीं जीतते

आदित्य ठाकरे ने कहा अगर बागी नेताओं में हिम्मत होती तो मुझसे आंख में आंख मिलाकर बात करते. ANI

आदित्य ठाकरे ने कहा अगर बागी नेताओं में हिम्मत होती तो मुझसे आंख में आंख मिलाकर बात करते. ANI

Maharashtra Political crisis: महाराष्ट्र में सियासी उठापटक का दौर लंबा खिंचता हुआ दिख रहा है. इसमें दोनों गुटों के बीच जुबानी जंग भी तेज हो गयी है. शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने बागी नेताओं को चुनौती देते हुए कहा है कि जो दगाबाजी करते हैं, वे कभी नहीं जीतते हैं. 

अधिक पढ़ें ...

महाराष्ट्र में सियासी उठापठक का दौर थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने बागी शिवसेना नेताओं की याचिका पर अगली सुनवाई की तारीख 12 जुलाई निर्धारित की है. इस कदम से महाराष्ट्र की सियासत में राजनीतिक ताकतों की जोर-आजमाइश लंबा खिंचता हुआ दिख रहा है. ऐसे में दोनों गुट एक-दूसरे के साथ जुबानी जंग में उलझे हुए हैं. इसी जंग में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के पुत्र और शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे की एंट्री हो गई है. आदित्य ठाकरे ने बागी नेताओं को चेतावनी देते हुए कहा है कि जो दगाबाजी करते हैं, वे कभी नहीं जीतते.

हिम्मत है तो आंख में आंख मिलाकर बात करें
आदित्य ठाकरे ने कहा, “जो लोग खुद को बागी कहते हैं, वे यहां से भाग गए. अगर सच में वे बगावत करना चाहते हैं, तो उन्हें यहां रहकर बगावत करनी चाहिए. उन्हें इस्तीफा देना चाहिए फिर चुनाव लड़ना चाहिए.” आदित्य ठाकरे ने कहा, “दूसरा फ्लोर टेस्ट तब होगा जब वे हमारे सामने बैठकर मुझसे आंख से आंख मिलाकर बात करें.”

पहले नैतिक परीक्षा दें, जनता जवाब देगी
आदित्य ठाकरे ने कहा, “जिन्होंने बगावत की है, उन्हें सामने आना होगा. इन लोगों को भागकर नहीं जाना चाहिए. फ्लोर टेस्ट से पहले उन्हें अपना मोरल टेस्ट (नैतिक परीक्षा) देना चाहिए. फिर उन्हें जनता जवाब देगी.” महाराष्ट्र में मौजूदा राजनीतिक स्थिति और संजय राउत को ED द्वारा समन किए जाने’ पर महाराष्ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने कहा, “ये राजनीति नहीं है, ये अब सर्कस बन गया है.” उन्होंने कहा, “सबसे बड़ा टेस्ट यही है कि जो बागी हैं, जो भाग गए हैं, जो खुद को बागी कह रहे हैं. अगर बगावत करनी होती तो यहां करते, इस्तीफा देते और सामने चुनाव के लिए खड़े रहते.”

Tags: BJP, Congress, Maharashtra, NCP, Shivsena

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर