होम /न्यूज /राष्ट्र /श्रद्धा मर्डर केस: जब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज में थे, उस वक्त साइकोलॉजिस्ट को डेट कर रहा था आफताब

श्रद्धा मर्डर केस: जब श्रद्धा के शव के टुकड़े फ्रिज में थे, उस वक्त साइकोलॉजिस्ट को डेट कर रहा था आफताब

Brutal Crime: श्रद्धा के शव के टुकड़े जब फ्रिज में थे उस वक्त आरोपी आफताब एक डॉक्टर से डेट कर रहा था. (Photo-News18)

Brutal Crime: श्रद्धा के शव के टुकड़े जब फ्रिज में थे उस वक्त आरोपी आफताब एक डॉक्टर से डेट कर रहा था. (Photo-News18)

Shraddha Murder Case: श्रद्धा वॉलकर मर्डर केस में चौंकाने वाली बात सामने आई है. जिस वक्त मृतका के शव के टुकड़े फ्रिज मे ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

श्रद्धा मर्डर केस में अब सामने आई चौंकाने वाली बात
कत्ल के बाद एक डॉक्टर को डेट कर रहा था आरोपी
डेटिंग एप के जरिये कई महिलाओं से मिला आफताब

नई दिल्ली. श्रद्धा वॉलकर की हत्या और उसके शव के 35 टुकड़े हो जाने के बाद एक महिला कत्ल के आरोपी आफताब पूनावाला के घर गई थी. पुलिस ने उस महिला की पहचान कर ली है. पुलिस का कहना है कि आरोपी के घर जाने वाली महिला डॉक्टर है और उन दोनों की मुलाकात डेटिंग एप ‘बम्बल’ पर हुई थी. पुलिस ने बताया कि जब फ्रिज में श्रद्धा के शरीर के टुकड़े रखे थे, तब आफताब ने एक साइकोलॉजिस्ट को डेट करने घर पर बुलाया था. सूत्रों के मुताबिक, पुलिस ने इस महिला से पूछताछ भी की है.

बताया जाता है कि श्रद्धा और आफताब की मुलाकात भी इसी डेटिंग एप ‘बम्बल’ पर हुई थी. पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए ‘बम्बल’ मैनेजमेंट को भी पत्र लिखा है. आफताब इस एप के जरिये कई महिलाओं के साथ मुलाकात कर चुका है. दूसरी ओर, कोर्ट ने शनिवार शाम श्रद्धा हत्याकांड के आरोपी को तिहाड़ जेल भेज दिया. उसे 13 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है. आफताब यहां जेल नंबर-4 में रहेगा और सीसीटीवी से उसकी 24 घंटे निगरानी होगी. इसके अलावा वह जिले में ज्यादा घूम-फिर भी नहीं पाएगा. उसका जेल से ज्यादा देर के लिए जेल से निकलना प्रतिबंधित है.

मृतका के पिता का लिया डीएनए सैंपल
दूसरी ओर, पुलिस ने बताया कि उसे अभी तक मृतका श्रद्धा के शव की डीएनए रिपोर्ट नहीं मिली है. जबकि, दिल्ली पुलिस ने 16 नवंबर को मृतका के पिता विकास वॉलकर का डीएनए सैंपल ले लिया था. पुलिस इस डीएनए को जंगल में मिले शरीर के हिस्सों के डीएनए से भी मिलाएगी. गौरतलब है कि पूरे देश को हिला देने वाले इस हत्याकांड का राज उस वक्त खुला जब श्रद्धा के पिता ने बेटी को लेकर मामला दर्ज कराया. 10 नवंबर को पुलिस ने मृतका के पिता विकास वॉलकर की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की थी. पुलिस ने उसके लिव-इन पार्टनर आफताब पूनावाला को गिरफ्तार किया. उसके बाद हैरान करने वाले राज खुलने लगे.

डेटिंग एप से मौत तक का सफर
आफताब और श्रद्धा की मुलाकात डेटिंग वेबसाइट पर हुई थी और उसके बाद दोनों दिल्ली के छतरपुर में किराए के फ्लैट में रहने लगे थे. बताया जा रहा है कि लिव-इन पार्टनर आफताब ने श्रद्धा की हत्या तो 18 मई को ही कर दी थी. उसके बाद उसने मृतका के शरीर के टुकड़े किए और फ्रीज में रख दिए. वह धीरे-धीरे अलग-अलग जगहों पर जाकर इन टुकड़ों को ठिकाने लगाने लगा.

Tags: National News, Shraddha murder case

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें