वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या, जानिए किसने क्‍या कहा

बुखारी की हत्‍या पर देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और जम्‍मू कश्‍मीर की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती सहित कई राजनेताओं और पत्रकारों ने दुख जताया.


Updated: June 14, 2018, 9:58 PM IST
वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्या, जानिए किसने क्‍या कहा
शुजात बुखारी

Updated: June 14, 2018, 9:58 PM IST
वरिष्ठ पत्रकार एवं राइजिंग कश्मीर के संपादक शुजात बुखारी और उनके पीएसओ की श्रीनगर में उनके कार्यालय के बाहर अज्ञात बंदूकधारियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि बुखारी प्रेस एंक्लेव स्थित अपने कार्यालय से एक इफ्तार पार्टी के लिए जा रहे थे कि तभी अज्ञात बंदूकधारियों ने उन पर हमला कर दिया. वह लगभग 50 साल के थे. हमला किसने किया यह पता नहीं चल पाया.

अधिकारियों ने बताया कि बुखारी की सुरक्षा में तैनात उनके निजी सुरक्षा अधिकारियों (पीएसओ) में से एक की इस हमले में मौत हो गई. हमले में एक अन्य पुलिसकर्मी और एक आम नागरिक घायल हो गया. अधिकारियों ने बताया कि हमले में घायल दोनों लोगों की हालत गंभीर है. हमला ईद से पहले हुआ है.

बुखारी की हत्‍या पर देश के गृहमंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी और जम्‍मू कश्‍मीर की मुख्‍यमंत्री महबूबा मुफ्ती सहित कई राजनेताओं और पत्रकारों ने दुख जताया. जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक संदेश में कहा कि वह बुखारी की खबर सुनकर स्तब्ध और दुखी हैं.


उन्होंने टि्वटर पर कहा, ‘आतंकवाद की बुराई ने ईद की पूर्व संध्या पर अपना घिनौना चेहरा दिखाया है. मैं बर्बर हिंसा के कृत्य की कड़ी निन्दा करती हूं और ईश्वर से प्रार्थना करती हूं कि उनकी (बुखारी) आत्मा को शांति मिले. उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं.’



जर्नलिस्ट बुखारी की हत्या पर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने भी संवेदना जाहिर की है. राजनाथ सिंह ने कहा- 'शुजात बुखारी की हत्या एक कायरतापूर्ण हरकत है. ऐसा करके हमलावरों और नफरत फैलाने वालों ने कश्मीर की आवाज को दबाने की कोशिश की है. बुखारी एक साहसी और निर्भीक पत्रकार थे. उनकी असमायिक मौत से आहत हूं.'







कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कश्मीर में वरिष्ठ पत्रकार शुजात बुखारी की हत्या पर दुख प्रकट किया और कहा कि बुखारी एक साहसी पत्रकार थे जिन्होंने न्याय और शांति के लिए निर्भीक होकर लड़ाई लड़ी. गांधी ने ट्वीट किया, ‘राइजिंग कश्मीर (अखबार) के संपादक शुजात बुखारी की हत्या की खबर सुनकर दुखी हूं. वह बहादुर इंसान थे जिन्होंने जम्मू-कश्मीर में न्याय और शांति के लिए निर्भीक होकर लड़ाई लड़ी. उनके परिवार के प्रति संवेदना है. बुखारी की कमी महसूस होगी.’











केंद्रीय मंत्री राज्‍यवर्धन सिंह राठौड़, भाजपा नेता राम माधव, नेशनल कांफ्रेंस के उमर अब्‍दुल्‍ला और कई वरिष्‍ठ पत्रकारों ने भी दुख जताया.
News18 Hindi पर Jharkhand Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Nation News in Hindi यहां देखें.

और भी देखें

Updated: June 20, 2018 08:37 PM ISTराम माधव ने बताया जम्‍मू कश्‍मीर में क्‍या होगा आगे का रास्‍ता
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर