• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • सिद्धारमैया बोले- चाणक्‍य यूनिवर्सिटी बिल का कांग्रेस कर रही विरोध, स्‍पांसर संस्‍था में सभी सदस्‍य संघी

सिद्धारमैया बोले- चाणक्‍य यूनिवर्सिटी बिल का कांग्रेस कर रही विरोध, स्‍पांसर संस्‍था में सभी सदस्‍य संघी

सिद्धारमैया ने दी प्रतिक्रिया. (Pic- ANI)

सिद्धारमैया ने दी प्रतिक्रिया. (Pic- ANI)

पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया (Siddaramaiah) ने बुधवार को कहा है कि यूनिवर्सिटी की स्‍पांसर संस्‍था सेंटर फॉर एजुकेशन एंड सोशल स्‍टडीज में सभी सदस्‍य संघ के हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    बेंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमैया (Siddaramaiah) ने बुधवार को कहा है कि कांग्रेस चाणक्‍य यूनिवर्सिटी बिल, 2021 (Chanakya University Bill, 2021) का विरोध कर रही है. उनका कहना है कि सेंटर फॉर एजुकेशन एंड सोशल स्‍टडीज में सभी सदस्‍य संघ के हैं. ये संस्‍था ही इस यूनिवर्सिटी की स्‍पॉन्‍सर संस्‍था है. ऐसे में यह यूनिवर्सिटी बड़े स्‍तर पर लोगों को लाभांवित नहीं करेगी.

    इससे पहले सिद्धारमैया नई राष्‍ट्रीय शिक्षा नी‍ति पर भी प्रतिक्रिया दे चुके हैं. इस महीने की शुरुआत में वरिष्ठ कांग्रेस नेता और कर्नाटक विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष सिद्धारमैया ने राज्य सरकार से आग्रह किया था कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति को लागू करने के फैसले को वापस लिया जाए. सिद्धारमैया ने दावा किया था कि नई शिक्षा नीति के पीछे मकसद छात्रों में शिक्षा के माध्यम से सांप्रदायिकता की भावना भरना है और यह शिक्षा तथा विश्वविद्यालयों को लेकर राज्यों की स्वायत्तता में भी हस्तक्षेप करती है.

    पूर्व मुख्यमंत्री नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के बारे में उच्च शिक्षा मंत्री सीएन अश्वत्थ नारायण के कार्यालय से भेजे गए एक पत्र पर प्रतिक्रिया दे रहे थे. इस पत्र में सिद्धारमैया से इस विषय पर चर्चा करने के लिए समय मांगा गया था.

    सिद्धारमैया ने नारायण को लिखे पत्र में कहा था, ‘गौर करने की बात है कि सरकार पहले ही उक्त नीति को मौजूदा शिक्षण सत्र से लागू करने का फैसला कर चुकी है. उसने छात्रों, शिक्षकों, शिक्षा क्षेत्र के विशेषज्ञों या विपक्ष से कोई बात नहीं की है. क्रियान्वयन शुरू करने के बाद अब चर्चा करने की बात करना सही नहीं है.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज