कर्नाटक: कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने JDS को बताया वेश्या, बाद में दी ये सफाई

कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया (Ex CM Siddaramaiah) ने सेक्सिस्ट टिप्पणी कर एक और विवाद खड़ा कर दिया.

News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 6:30 PM IST
कर्नाटक: कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने JDS को बताया वेश्या, बाद में दी ये सफाई
कर्नाटक में कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने JDS को लेकर दिए बयान पर सफाई दी है.
News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 6:30 PM IST
कर्नाटक (Karnataka) के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया (Ex CM Siddaramaiah) ने सेक्सिस्ट टिप्पणी कर एक और विवाद खड़ा कर दिया. इस बार उन्होंने कर्नाटक में गठबंधन की सरकार गिरने की बात पर जनता दल यूनाइटेड-सेक्युलर (Janta Dal United-Secular) के कार्यकर्ताओं की तुलना वेश्याओं से कर दी.

गठबंधन टूटने को लेकर जब सिद्धारमैया से पूछा गया कि जेडीएस क्यों उन पर गठबंधन तोड़ने का इल्ज़ाम लगा रही है तो उन्होंने जवाब दिया कि कन्नड़ (Kannada) की एक पुरानी कहावत है जिसकामतलब कुछ इस तरह है कि- जो वेश्याएं नाच नहीं पातीं, वे जमीन को दोष देती हैं.

बाद में दी ये सफाई
अपने इस बयान पर कांग्रेस के नेता (Congress Leader) ने बाद में सफाई देते हुए कहा कि उस कहावत में उनका मतलब था नाच नहीं सकने वालों के लिए था, वेश्या का इससे कोई लेना-देना नहीं. उन्होंने आगे कहा कि मतलब जो नाच नहीं सकते वो जमीन को दोष देते हैं. इससे मेरा मतलब भाजपा (BJP) के लिए था किसी और के लिए नहीं.Karnataka, Siddharamaiah

जुलाई में गिर गई थी गठबंधन सरकार
गौरतलब है कि कर्नाटक में 14 महीने तक चली कांग्रेस-जेडीएस की सरकार (Congress-JDS government collapsed) 22 जुलाई को विश्वास प्रस्ताव में हारने के कारण गिर गई थी. तब कांग्रेस के मुख्यमंत्री एचडी कुमारास्वामी (CM HD Kumaraswamy) विधानसभा में विश्वास मत हासिल करने में सफल नहीं हो पाए थे. इसके बाद भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के बीएस येडियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली थी.

ये भी पढ़ें-
Loading...

अरशद मदनी और भागवत के बीच इन मुद्दों पर हुई चर्चा

इमारत की चौथी मंजिल पर चढ़ा सांड, फिर लगाई छलांग तो हुआ ये..

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 6:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...