अपना शहर चुनें

States

बंगाल के राज्‍यपाल ने कहा- दुर्गा पूजा महोत्‍सव में अपमानित महसूस किया, दुखी हूं

दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर पश्चिम बंगाल के राज्‍यपाल जगदीश धनखड़ ने नाराजगी जताई है.
दुर्गा पूजा के आयोजन को लेकर पश्चिम बंगाल के राज्‍यपाल जगदीश धनखड़ ने नाराजगी जताई है.

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के राज्‍यपाल (Governor) ने दुर्गा पूजा (Durga Puja) के आयोजन को लेकर ममता बनर्जी सरकार (mamata Banerjee Government) पर नाराजगी जताई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 6:31 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल  (West Bengal) के राज्‍यपाल जगदीश धनखड़ (Governor Jagdeep Dhankhar) ने राज्‍य सरकार (Government) पर आरोप लगाते हुए कहा कि कोलकाता में दुर्गा पूजा (Durga Puja) के आयोजन के दौरान उन्‍होंने अपमानित महसूस किया. हालांकि उन्‍होंने नाराजगी का कारण नहीं बताया है.

न्‍यूज एजेंसी एएनआई के अनुसार, राज्‍यपाल जगदीश धनखड़ ने कहा कि पश्चिम बंगाल की संस्‍कृति का अपमान किया गया. यह राज्‍य के हर एक व्‍यक्ति का अपमान था. उन्‍होंने कहा कि कोई भी चीज उनके संवैधानिक कर्तव्‍यों को निभाने में आड़े नहीं आ सकती है.

नाराजगी की ये वजह हो सकती है
धनखड़ की नाराजगी को लेकर ऐसा कहा जा रहा है कि वे कोलकाता में दुर्गा पूजा महोत्‍सव की बैठक व्‍यवस्‍था से खुश नहीं थे. तृणमूल कांग्रेस सरकार ने इस कार्यक्रम का आयोजन किया था. यह महोत्‍सव राज्‍य के सबसे बड़े दुर्गा पूजा महोत्‍सवों में से एक था. ऐसा भी कह जा रहा है कि धनखड़ को मंच पर सबसे किनारे की सीट दी गई थी. वे कार्यक्रम को ठीक से देख नहीं पा रहे थे. जिसके कारण उन्‍होंने नाराजगी जताई है. इस कार्यक्रम में ममता बनर्जी मंत्रिमंडल के कई सदस्‍य, राज्‍यपाल जगदीश धनखड़, विभिन्‍न वाणिज्‍य दूतावासों के सदस्‍य और कुछ अन्‍य लोग शामिल हुए थे.
इस वजह से बनाए गए थे बंगाल के राज्‍यपाल


राज्‍स्‍थान की सियासत के चर्चित चेहरा रहे जगदीश धनखड़ को इसी साल जुलाई में राज्‍यपाल नियुक्‍त किया गया था. वह राजस्‍थान हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के प्रेसिडेंट भी रह चुके हैं. धनखड़ की गिनती राजस्‍थान के बड़े नेताओं में होती थी. राज्‍य में जाटों में आरक्षण दिलाने में धनखड़ में अहम भूमिका निभाई थी. मंझा हुआ राजनीतिज्ञ होने के कारण ही धनखड़ को पश्चिम बंगाल का राज्‍यपाल नियुक्‍त किया गया है.

सियासी दांवपेंच और कानून के जानकार हैं धनखड़
धनखड़ कानून, सियासत, सियासी दांवपेंच औऱ हर पार्टी के अंदर अपने संबंधों की महारत के लिए जाने जाते हैं. धनखड़ राजस्‍थान की जाट बिरादरी से आते हैं, जिसके कारण जाटों पर उनकी अच्‍छी खासी पकड़ है. पश्चिम बंगाल में मारवाड़ियों का अच्छा खास प्रभाव है. बीजेपी हमेशा से ही इस समाज को अपना वोट बैंक मानती है. बंगाल में राजस्‍थान मूल के मारवाड़ियों का एक बड़ा हिस्‍सा सक्रिय है. धनखड़ के आधार बनाकर उन लोगों को साधने की कोशिश की गई है.

ये भी पढ़ें: सारे बड़े अर्थशास्त्री बंगाल से ही क्यों आते हैं?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज