हिंसा के कारण पाकिस्‍तान के लाहौर में फंसा भारतीय सिख जत्‍था, संपर्क में उच्‍चायोग

लाहौर में फंसा है भारतीय सिख जत्‍था

लाहौर में फंसा है भारतीय सिख जत्‍था

Sikh Pilgrims: ईटीबीपी के सूत्रों ने न्‍यूज 18 से कहा कि ईटीबीपी के अधिकारी भारतीय सिख जत्थे के साथ मौजूद हैं और उनका ख्याल रखा जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 4:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. हिंसा के चलते पाकिस्‍तान के लाहौर में सिख जत्‍था फंस गया है. टीएलपी के नेता साद हुसैन रिज़वी की गिरफ्तारी के बाद पाकिस्तान में प्रदर्शन जारी है. जिसके चलते सिख जत्था कल से लाहौर में फंसा हुआ है. बता दें कि सोमवार को बैसाखी के कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए करीब 1000 श्रद्धालुओं का सिख जत्था पाकिस्तान गया था. उनके कार्यक्रम के अनुसार उन्हें पंजा साहिब गुरुद्वारा जाना था, लेकिन पाकिस्तान के हालात के चलते वो यात्रा नहीं कर पा रहे और लाहौर के गुरुद्वारा डेरा साहिब में फंसे हुए हैं.

इस मामले पर भारत ने उनकी सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है. उच्चायोग लगातार पाक विदेश मंत्रालय और ईटीबीपी से संपर्क में है. वहीं खराब हालात के चलते उच्चायोग के अधिकारी श्रद्धालुओं तक नहीं पहुंच पाए हैं. भारतीय उच्चायोग के सूत्रों ने न्यूज़18 से कहा कि उनकी सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए पाकिस्तान सरकार से कहा गया है.

ईटीबीपी के सूत्रों ने न्‍यूज 18 से कहा कि ईटीबीपी के अधिकारी भारतीय सिख जत्थे के साथ मौजूद हैं और उनका ख्याल रखा जा रहा है. ईटीबीपी अधिकारी उनके साथ पंजा साहिब जाएंगे. ईटीबीपी के सूत्रों ने बताया कि वो स्थानीय प्रशासन के साथ संपर्क में हैं और रास्ता खुलने पर उन्हें पंजा साहिब ले जाया जाएगा. पाकिस्तान की ईटीबीपी ने उम्मीद जताई है कि आज उन्हें पंजा साहिब ले जाया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज