लाइव टीवी

Coronavirus: एअर इंडिया के विमान से लौटे 324 भारतीय, चीन ने 6 लोगों को रोका

News18Hindi
Updated: February 1, 2020, 6:38 PM IST
Coronavirus: एअर इंडिया के विमान से लौटे 324 भारतीय, चीन ने 6 लोगों को रोका
एअर इंडिया के विमान के जरिए वुहान से 324 भारतीयों को लाया गया.

चीन (China) में कोरोनावायरस (Coronavirus) से प्रभावित वुहान (wuhan) शहर से शनिवार को एअर इंडिया (Air India) का विमान 324 भारतीय नागरिकों को लेकर दिल्‍ली पहुंचा. हालांकि 6 भारतीयों को चीनी अधिकारियों ने विमान में चढ़ने नहीं दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 1, 2020, 6:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. एअर इंडिया का बी747 विमान चीन में कोरोनावायरस से प्रभावित वुहान शहर से 324 भारतीय नागरिकों को लेकर शनिवार सुबह यहां पहुंचा. इस विमान में दिल्‍ली के राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल के 5 डॉक्‍टर और विमान के सहायक चिकित्‍सक मौजूद थे. अब ऐसा बताया जा रहा है कि चीन में छह भारतीयों को विमान में चढ़ने नहीं दिया गया.

स्‍क्रीनिंग में ज्‍यादा पाया गया तापमान
विमान को उड़ान भरने से इसलिए भी देरी हुई क्‍योंकि चीनी अधिकारियों ने 6 भारतीयों को विमान में चढ़ने की इजाजत नहीं दी. ऐसा इसलिए किया गया, क्‍योंकि स्‍क्रीनिंग के दौरान इन लोगों में अधिक तापमान पाया गया. न्‍यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में एक यात्री ने कहा, 'विमान में 6 भारतीयों को चढ़ने नहीं दिया गया, क्‍योंकि उनमें तापमान ज्‍यादा पाया गया.'

एक अन्‍य विमान भी चीन के लिए रवाना

वुहान से लाए गए भारतीयों में तीन नाबालिग, 211 छात्र और 110 कामकाजी पेशेवर शामिल हैं. विमान सुबह साढ़े सात बजे दिल्ली पहुंचा. अधिकारियों ने बताया कि एक अन्य विमान अपराह्न एक बजकर 37 मिनट पर यहां से चीनी शहर के लिए रवाना हुआ. प्रवक्ता ने बताया कि पहली उड़ान के साथ रहे राम मनोहर लोहिया अस्पताल के पांच चिकित्सक दूसरी उड़ान के दौरान भी रहे. इस बीच, भारतीय सेना ने चीन के हुबेई प्रांत से लाए गए लोगों को पृथक रखने के लिए दिल्ली के निकट मानेसर में एक केंद्र स्थापित किया है.

ITBP ने बनाए हैं 600 बेड वाले अलग केंद्र
आईटीबीपी ने संक्रमण के संदिग्धों को अलग रखने और मूलभूत चिकित्सकीय सेवा मुहैया कराने के लिए दक्षिणपश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में 600 बिस्तरों की सुविधा वाला पृथक केंद्र स्थापित किया है. अधिकारियों ने बताया कि चिकित्सकों और अन्य कर्मियों की एक योग्य टीम दो सप्ताह तक इन लोगों पर नजर रखेगी कि किसी में संक्रमण का कोई लक्षण तो नहीं दिख रहा.इससे पहले वुहान से भारतीय नागरिकों को लाने के लिए एअर इंडिया का 423 सीटों वाला बी747 विमान शुक्रवार को दिल्ली हवाई अड्डे से दोपहर एक बजकर 17 मिनट पर रवाना हुआ था.

चीन के शहर से पहली उड़ान के दिल्ली लौटने के कुछ घंटों बाद एअर इंडिया के प्रवक्ता ने कहा, 'एक अन्य विमान आज दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर दिल्ली से वुहान के लिए रवाना होगा. विमान में चालक दल के सदस्य तो दूसरे होंगे लेकिन डॉक्टरों की टीम पहले वाली होगी. बचाव टीम की अगुवाई एक बार फिर एअर इंडिया के परिचालन निदेशक, कैप्टन अमिताभ सिंह करेंगे.'

कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्‍या 259 हुई
एअर इंडिया के प्रबंध निदेशक अश्वनी लोहानी ने शुक्रवार को कहा था, 'विमान में कोई सेवा नहीं दी जाएगी. जो भी खाद्य पदार्थ होंगे वह सीट पॉकेट में रखे होंगे. चूंकि कोई सेवा नहीं होगी तो (चालक दल के सदस्यों और यात्रियों के बीच) कोई संपर्क भी नहीं होगा.'

चीन का हुबेई प्रांत इस विषाणु से सबसे अधिक प्रभावित है. चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 259 हो गई है और संक्रमण के कुल 11,791 मामलों की पुष्टि हुई है.
(भाषा इनपुट के साथ)

 

ये भी पढ़ें: क्या मास्क पहनने से कोरोनावायरस से बचा जा सकता है? जरूर पढ़ें ये खबर

ये भी पढ़ें: कोरोना वायरस की चपेट में आने के संदेह में दो और लोग आरएमएल अस्पताल में भर्ती

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 1, 2020, 6:38 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर