Home /News /nation /

छठी के छात्र ने भाषण की चोरी के लिए राष्ट्रपति कार्यालय पर किया मुकदमा

छठी के छात्र ने भाषण की चोरी के लिए राष्ट्रपति कार्यालय पर किया मुकदमा

Photo: Pakistan President Mamnoon Hussain (AFP)

Photo: Pakistan President Mamnoon Hussain (AFP)

पाकिस्तान में 11 साल के एक लड़के ने राष्ट्रपति ममनून हुसैन के कार्यालय पर अपने एक भाषण की कथित चोरी के लिए मुकदमा किया है.

  • Bhasha
  • Last Updated :
    पाकिस्तान में 11 साल के एक लड़के ने राष्ट्रपति ममनून हुसैन के कार्यालय पर अपने एक भाषण की कथित चोरी के लिए मुकदमा किया है.

    छठी कक्षा में पढ़ने वाले मोहम्मद सबील हैदर का कहना है कि उसने यह भाषण पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की जयंती पर आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रम में देने के लिए तैयार किया था.

    इस्लामाबाद हाईकोर्ट में सुनवाई
    अब हैदर ने अपने पिता नसीम अब्बास नासिर के जरिये इस्लामाबाद हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. हैदर ने अपने भाषण की सामग्री ‘चुराने’ और उसकी मंजूरी के बिना उसे किसी और को देने के लिए राष्ट्रपति कार्यालय के खिलाफ याचिका दायर की.

    इस मामले में न्यायमूर्ति आमिर फारूक ने हैदर की याचिका बनाए रखने पर फैसला सुरक्षित रखा.

    राष्ट्रपति ने सराहना पत्र दिया
    हैदर ने राष्ट्रपति के सचिव, राष्ट्रपति सचिवालय के अतिरिक्त सचिव, शिक्षा निदेशालय कॉलेजेज के निदेशक, पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया विनियामक प्राधिकरण (पीईएमआरए), पाकिस्तानी टेलीविजन के प्रबंध निदेशक और इस्लामाबाद कॉलेज फोर गर्ल्स की प्राचार्य के जरिये आयशा इश्तियाक नामक लड़की को प्रतिवादी बनाया है.

    इस्लामाबाद मॉडल कॉलेज फोर ब्यॉयेज में पढ़ने वाले हैदर ने याचिका में कहा कि उसने इस साल 23 मार्च को राष्ट्रपति कार्यालय की ओर से आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया था और भाषण दिया था. बाद में राष्ट्रपति ने उन्हें एक सराहना पत्र दिया था.

    ‘पाकिस्तान का मुस्तकबिल’ विषय पर भाषण
    उसने कहा कि जिन्ना की 141वीं जयंती (25 दिसंबर) से संबंधित ‘कायद ए आजम और बच्चे’ कार्यक्रम आयोजित किया गया और प्रतिवादियों ने 14 दिसंबर को उससे कार्यक्रम में ‘पाकिस्तान का मुस्तकबिल’ विषय पर भाषण देने का अनुरोध किया था. इसकी रिकॉर्डिंग 22 दिसंबर को की जानी थी. लेकिन 22 दिसंबर को हैदर को भाषण देने नहीं दिया गया.

    बाद में हैदर को बताया गया कि भाषण एक दूसरे स्कूल की लड़की देगी और जब उसने वह भाषण दिया तो हैदर को एहसास हुआ कि वह उसका लिखा भाषण था.

    हैदर के वकील ने इसे ‘चोरी’ बताते हुए मामले को बौद्धिक संपदा अधिकारों और कॉपीराइट आदि का उल्लंघन करार दिया और मांग की कि प्रतिवादियों को इलेक्ट्रॉनिक या सोशल मीडिया पर भाषण पेश करने से रोका जाए.undefined

    Tags: Islamabad, Pakistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर