Kisan Andolan: किसान आंदोलन में महिला से रेप का आरोप, योगेंद्र यादव बोले- हमें नहीं थी जानकारी, SKM करेगा जांच

योगेन्द्र यादव. (फाइल फोटो)

योगेन्द्र यादव. (फाइल फोटो)

संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने कहा कि वह इस आरोपों की जांच करेगा कि उसके कुछ नेताओं को टीकरी बॉर्डर प्रदर्शन स्थल पर एक महिला कार्यकर्ता की कथित यौन उत्पीड़न के बारे में जानकारी थी.

  • Share this:

नई दिल्ली. संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने सोमवार को कहा कि वह इस आरोपों की जांच करेगा कि उसके कुछ नेताओं को टीकरी बॉर्डर प्रदर्शन स्थल पर एक महिला कार्यकर्ता की कथित यौन उत्पीड़न के बारे में जानकारी थी, जिसकी बाद में हरियाणा के एक निजी अस्पताल में कोविड-19 के कारण मृत्यु हो गई.

किसान नेता योगेंद्र यादव ने कहा, ‘हमने टेलीविजन पर यह खबरें देखी हैं कि टीकरी बॉर्डर पर कुछ किसान नेताओं को उत्पीड़न के बारे में जानकारी थी और उन्होंने कोई कदम नहीं उठाया. हम वर्तमान में इन खबरों की पुष्टि नहीं कर सकते, लेकिन हम आपको आश्वासन देते हैं कि हम इन आरोपों की जांच करेंगे और कड़ी कार्रवाई करेंगे.'

SKM ने क्या कहा था?

SKM ने उन खबरों को लेकर रविवार को कहा था कि वह महिलाओं के खिलाफ हिंसा को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करता है, जिसमें कहा गया था कि पश्चिम बंगाल की रहने वाली महिला कार्यकर्ता का यौन उत्पीड़न किया गया था.
यादव ने कहा कि किसानों के संगठन को कथित उत्पीड़न के बारे में तब पता चला जब पीड़ित के पिता, जो संवाददाता सम्मेलन में मौजूद थे, 2 मई को उनसे मिलने आए. उन्होंने कहा, ‘पिता 29 अप्रैल को दिल्ली पहुंचे और महिला से मिले जिसकी हालत गंभीर थी. महिला ने निधन से पहले उसके बारे में बताया, महिला का 30 अप्रैल को निधन हो गया.’

इन धाराओं पर केस दर्ज

हरियाणा पुलिस ने टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में भाग लेने आई पश्चिम बंगाल की एक लड़की के साथ रेप होने का मामला दर्ज किया है. इस लड़की की पिछले दिनों ही कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी. लड़की के पिता ने आरोप लगाया है कि मेरी बेटी के साथ चार लोगों ने रेप किया है. लड़की के पिता की शिकायत पर शहर थाना पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है.




आईपीसी की धारा 365, 342, 354, 376 और 120 बी के तहत मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने सभी आरोपियों पर सामूहिक दुष्कर्म के साथ-साथ अपहरण, ब्लैकमेलिंग, बंधक बनाने और धमकी देने की धाराओं में भी मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस ने फिलहाल चार किसान नेता और दो आंदोलन से जुड़ी महिला वॉलंटियर को भी आरोपी बनाया है. (भाषा इनपुट के साथ)

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज