अपना शहर चुनें

States

कर्नाटक विधान परिषद के डिप्टी चेयरमैन एसएल धर्मेगौड़ा का रेलवे ट्रैक पर मिला शव, आत्महत्या की आशंका

64 वर्षीय एसएल धर्मे गौड़ा
64 वर्षीय एसएल धर्मे गौड़ा

64 वर्षीय एसएल धर्मे गौड़ा को बीते दिनों कांग्रेस के सदस्यों द्वारा कथित तौर पर गैरकानूनी तरीके से सत्र की अध्यक्षता करने की कोशिश करने के लिए उन्हें कुर्सी से उतार दिया गया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 29, 2020, 11:14 AM IST
  • Share this:
बेंगलुरु. कर्नाटक विधान परिषद ( Karnataka Vidhana Parishat) के उपसभापति एसएल धर्मेगौड़ा (SL Dharme Gowda) ने कथित तौर पर आत्महत्या कर ली. जेडीएस विधायक का क्षत विक्षत शव मध्य कर्नाटक की पहाड़ियों में उनके गृह नगर चिकमगलूर के पास रेलवे ट्रैक पर पाया गया.

धर्मेगौड़ा से जुड़े शीर्ष सूत्रों ने News18 को समाचार की पुष्टि करते हुए कहा कि वे अधिक जानकारी के लिए मामले की जांच कर रहे हैं. उनके मुताबिक, उनका शव सुबह 2 बजे (29 दिसंबर) के आसपास मिला था. 64 वर्षीय गौड़ा हाल ही में कांग्रेस के सदस्यों द्वारा उच्च सदन में उन्हें घेरने के बाद चर्चा में आए थे. कांग्रेस सदस्यों का आरोप था कि वह गैरकानूनी तरीके से सत्र की अध्यक्षता करने की कोशिश कर रहे थे.

कांग्रेस सदस्यों ने कुर्सी से उतार दिया था..
कुछ कांग्रेस सदस्यों द्वारा उन्हें कुर्सी से (अध्यक्ष की सीट) घसीटा गया. कांग्रेस सदस्यों ने आरोप लगाया था कि उन्होंने सत्तारूढ़ भाजपा के साथ मिलकर उच्च सदन अध्यक्ष प्रताप चंद्र शेट्टी को बाहर कर दिया है.
धर्मेगौड़ा की मौत से कर्नाटक की राजनीति में कुछ तूफान आने की संभावना है. जिससे कांग्रेस को कटघरे में खड़ा किया जा सकता है. उनके भाई एसएल भोजे गौड़ा भी एमएलसी और कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी के करीबी हैं.



‘सुसाइड नोट’ भी बरामद हुआ
सूत्रों के अनुसार गौड़ा अपनी निजी कार में सखारयापत्तना स्थित फार्महाउस से कल शाम को घर के लिए निकले थे, लेकिन पहुंचे नहीं और इसके बाद उनके परिवार तथा स्टाफ ने उनकी तलाश शुरू की. सूत्रों ने बताया कि उन्होंने अपने चालक से कहा था कि वह किसी से बात करने जा रहे हैं और वह थोड़ी दूर ही रुक जाए. एक ‘सुसाइड नोट’ भी बरामद हुआ है.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि शव को शिमोगा के मेकगैन अस्पताल ले जाया गया है. मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने घटना पर स्तब्धता जाहिर करते हुए, इसे ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ करार दिया.

कुमारस्वामी ने ट्वीट किया
उन्होंने विधान परिषद के उपाध्यक्ष के रूप में कुशलतापूर्वक संचालन के लिए एमएलसी की सराहना की. जद (एस) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व प्रधानमंत्री एच. डी. देवगौड़ा ने भी ट्वीट कर धर्मे गौड़ा के निधन पर स्तब्धता जाहिर की और उन्हें एक सभ्य राजनेता के तौर पर याद किया.



देवगौड़ा ने कहा कि धर्मे गौड़ा के निधन से राज्य को क्षति पहुंची है. पूर्व मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी ने भी धर्मे गौड़ा के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए, उन्हें अपने भाई की तरह बताया. कुमारस्वामी ने ट्वीट किया, ‘उनके निधन से मुझे सदमा पहुंचा है. वह एक ईमानदार राजनेता थे.’ (भाषा इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज