Ministry of Railways -ट्रेन या प्‍लेटफार्म पर बीड़ी, सिगरेट पीने वालों पर होगी कार्रवाई, जानें कब से?

ट्रेन या प्‍लेटफार्म पर बीड़ी, सिगरेट पीने वालों के खिलाफ अभियान चलेगा. (File)

ट्रेन या प्‍लेटफार्म पर बीड़ी, सिगरेट पीने वालों के खिलाफ अभियान चलेगा. (File)

रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) ने ट्रेन (Train) या प्‍लेटफार्म (Platform) पर बीड़ी, सिगरेट (Smoking) पीने वालों के खिलाफ अभियान (Campaign) चलाने का फैसला लिया गया है. उल्‍लंघन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 5:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. ट्रेन  (Train) या प्‍लेटफार्म (Platform) पर बीड़ी या सिगरेट (Smoking) पीने वालों के खिलाफ रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) सख्‍ती बरतेगा. इसके लिए देशभर में अभियान (Campaign) चलाने का फैसला लिया गया है.  पहले एक सप्‍ताह लोगों को जागरूक किया जाएगा. इसके बाद ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. साथ ही, प्‍लेटफार्म, यार्ड या फिर वाशिंग लाइन पर आग जलाकर या अंगीठी में खाना बनाने वालों पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

रेलवे मंत्रालय के अनुसार ट्रेनों में होने वाली आग की घटनाओं और इससे होने वाले नुकसान को ध्‍यान में रखते स्‍मोकिंग के खिलाफ विभिन्‍न जोनों में 7 दिन का जागरूकता अभियान चलाया गया है जो 30 मार्च तक चलेगा. इसके बाद से एक माह यानी 30 अप्रैल तक नियमों का उल्‍लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी. अभियान के तहत यात्रियों, पार्सल में काम करने वाले रेलवे और प्राइवेट कर्मचारियों को अनाउंस, नुक्‍कड़ नाटकर कर,सोशल मीडिया की मदद से जागरूक किया जाएगा. जागरूकता खत्‍म होने के बाद अभियान चलाया जाएगा. जिसके तहत रेलवे परिसर या ट्रेन में सिगरेट,बीड़ी पीने वालों के खिलाफ रेलवे एक्‍ट या टुबैको एक्‍ट के तहत कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ ही प्‍लेटफार्म, यार्ड ,वाशिंग या सिक लाइन, खड़े कोचों पर खाना बनाने के लिए आग जलाने या अगींठी का इस्‍तेमाल करने वालों पर सख्‍ती  बरती जाएगी.

इस दौरान एक माह तक ट्रेनों में जांच की जाएगी, अगर कोई पैसेंजर गैस सिलेंडर या अन्‍य ज्‍वलनशील पदार्थ ले जाते हुए पकड़ा गया तो उस पर कार्रवाई की जाएगी. इसके साथ, ही ट्रेन या प्‍लेटफार्म पर अंगीठी या स्‍टोव पर खाना बनाने वाले रेलवे के अधिकृत और अवैध वेंडरों पर भी कानूनी कार्रवाई की जाएगी. पार्सलों की बुकिंग के समय भी इसकी जांच की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज