होम /न्यूज /राष्ट्र /स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर खूब साधा निशाना, कहा- एक सज्जन जिन्हें अमेठी ने ‘मैजिक’ दिखाया, वह पीएम मोदी पर...

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर खूब साधा निशाना, कहा- एक सज्जन जिन्हें अमेठी ने ‘मैजिक’ दिखाया, वह पीएम मोदी पर...

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मंगलवार को लोकसभा में राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. (फोटो- संसद टीवी)

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मंगलवार को लोकसभा में राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. (फोटो- संसद टीवी)

स्मृति ईरानी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी के हमले को लेकर पलटवार करते हुए कहा, 'आज एक सज्जन जिन्हें अमेठ ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने मंगलवार को लोकसभा में राहुल गांधी पर जमकर निशाना साधा. इस दौरान राहुल गांधी का नाम लेने की बजाय एक सज्जन कह कर संबोधित किया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी के हमले को लेकर पलटवार करते हुए कहा, ‘आज एक सज्जन जिन्हें अमेठी ने ‘मैजिक’ दिखाया और चार विधानसभा सीट पर जिनकी जमानत जब्त हुई, उन्होंने प्रधानमंत्री पर कटाक्ष किया.’ यहां उनका इशारा 2019 के लोकसभा चुनाव में अमेठी लोकसभा सीट पर राहुल गांधी की हार और अपनी जीत की ओर था.

स्मृति ईरानी ने मंगलवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में हस्तक्षेप करते हुए यह आरोप भी लगाया कि ‘परिवार’ ने अमेठी में कई ऐसी जमीनों को अपने कब्जे में ले लिया, जिन्हें फाउंडेशन या फैक्टरी के लिए आवंटित किया गया था. उनका इशारा गांधी परिवार की तरफ था.

‘सम्राट साइकिल की जमीन हड़पकर बैठा है खानदान’
केंद्रीय मंत्री ने कहा, ‘एक फाउंडेशन जो अमेठी में काफी विख्यात है, उसने 40 एकड़ जमीन ली. मेडिकल कॉलेज बनाने के नाम पर यह 40 एकड़ जमीन सिर्फ 623 रुपये में ली गई, लेकिन जिस जमीन पर मेडिकल कॉलेज बनाने की बात करते थे आज उस पर उस परिवार का गेस्ट हाउस बना हुआ है.’ उन्होंने कहा, ‘जिन्होंने आज इस सदन में आरोप मढ़ा वह बताएं कि 40 एकड़ भूमि के लिए ₹623 देते हैं आज तक उन्होंने भूमि क्यों नहीं छोड़ा, सम्राट साइकिल की जमीन आज भी वह खानदान क्यों हड़पकर अमेठी में बैठा है. जहां से एक खानदान ने 50 साल तक प्रतिनिधित्व किया शर्मसार होंगे.’

उन्होंने दावा किया कि अमेठी में ‘परिवार’ के अस्पताल ने एक व्यक्ति का इलाज नहीं किया और वापस लौटा दिया, क्योंकि उसके पास आयुष्मान भारत का कार्ड था. बाद में उस व्यक्ति की मौत हो गई. उन्होंने कहा, ‘ये वह लोग हैं जिन्होंने एक इंसान को मरने दिया, वह लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष कर रहे थे. नन्हे राम मिश्रा जब आयुष्मान कार्ड लेकर पहुंचा तो ये कह कर लौटा दिया गया कि मोदी कार्ड लाये हो तो इलाज नहीं होगा. बाद में इलाज ना मिलने का कारण नन्हे की डेथ हो गई. वीडियो में उसने ये बताया था’

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी का ‘राफेल दांव’ रहा फेल, क्या अब ‘अडानी अस्त्र’ से पूरा हो पाएगा 2024 का सपना?

स्मृति ईरानी ने गांधी परिवार पर अपना प्रहार जारी रखते हुए कहा, ‘अमेठी में एक फैक्टरी के लिए जमीन ली गई. अचानक यह जमीन फाउंडेशन को दी गई. बाद में परिवार ने जमीन खाली नहीं की. किसान अदालत जाता है और जमीन खाली करने का आदेश लाता है. आज भी वो जमीन पर बैठे हुए हैं. आज ये गरीब की बात करते हैं.’

अल्पसंख्यकों को छलने का लगाया आरोप
केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों की मंत्री ने इसके साथ ही उनपर देश में अल्पसंख्यकों को छलने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘हज की नई नीति कल आई है. जब इनकी (कांग्रेस) सरकार थी, तब हज के लिए आवेदन के वास्ते पैसा देना पड़ता था. अब किसी को आवेदन का पैसा नहीं देना पड़ेगा, यह मोदी सरकार ने सुनिश्चित किया.’ उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीति के कारण हज पर प्रतिव्यक्ति 50 हजार रुपये की बचत हो रही है.

स्मृति ईरानी ने कहा, ‘जहां 50 साल इन लोगों का राज था वहां अधिकतर लोगों के सिर पर छत नहीं थी. जब मोदी की सरकार आई तब अमेठी में 2 लाख से ज्यादा लोगों को गैस मिला. जब कांग्रेस की सरकार थी आदिवासी समाज पर 19000 करोड़ रुपये खर्च होता था, अब मोदी सरकार में 88000 करोड़ का खर्चा होता है.’ (भाषा इनपुट के साथ)

Tags: Parliament session, Rahul gandhi, Smriti Irani

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें