सोशल मीडिया पर शुरू हुई आम चुनाव की लड़ाई, मोदी के पक्ष में जुटे वॉलंटियर्स

सोशल मीडिया पर सक्रिय वॉलंटियर्स बीजेपी के कार्यकर्ता नहीं हैं बल्कि विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले प्रोफेशनल्स हैं जो सिर्फ चुनावों के दौरान ये काम करते हैं.

अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: January 3, 2019, 11:46 PM IST
सोशल मीडिया पर शुरू हुई आम चुनाव की लड़ाई, मोदी के पक्ष में जुटे वॉलंटियर्स
सोशल मीडिया पर सक्रिय वॉलंटियर्स बीजेपी के कार्यकर्ता नहीं हैं बल्कि विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले प्रोफेशनल्स हैं जो सिर्फ चुनावों के दौरान ये काम करते हैं.
अमिताभ सिन्हा
अमिताभ सिन्हा | News18Hindi
Updated: January 3, 2019, 11:46 PM IST
2019 आम चुनावों में अब बस कुछ महीने बचे हैं. ऐसे में राजनीतिक दलों ने चुनावी समय में उतरने के लिए कमर कसना शुरू कर दिया है. इसी के तहत बीजेपी के वॉलंटियर्स ने नरेंद्र मोदी को एक बार फिर पीएम बनाने के लिए मोर्चा संभाल लिया. सोशल मीडिया पर इन दिनों 'Modi Once More' ट्रेंड कर रहा है. पीएम मोदी ने भी इस ट्रेंड पर हो रहे ट्वीट को रीट्वीट कर जता दिया है कि ऐसे वॉलंटियर्स की इस बार भी उन्हें कितनी जरूरत है.

चुनावों से ठीक पहले मोदी के शुभचिंतक पूरी कोशिश कर रहे हैं कि 2014 की तरह एक बार फिर युवाओं में पीएम मोदी का जादू पहले की तरह ही चल जाए.

सोशल मीडिया पर सक्रिय वॉलंटियर्स बीजेपी के कार्यकर्ता नहीं हैं बल्कि विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले प्रोफेशनल्स हैं जो सिर्फ चुनावों के दौरान ये काम करते हैं. सूत्र बताते हैं कि लगभग दो दर्जन युवाओं की टीम है जिसमें 4-5 वॉलंटियर दिल्ली में हैं और बाकी युवा लगभग 25-26 बड़े शहरों में फैले हैं. ये 24 घंटे काम में लगे हैं और बीजेपी व मोदी के पक्ष में युवाओं के बीच हवा बनाने की कोशिश कर रहे हैं. ये लोग सोशल मीडिया के माध्यम से युवाओं को जोड़ भी रहे हैं और मोदी के लिए वोट करने के लिए प्रेरित भी कर रहे हैं.



ये ग्रुप एक कैंपेन चला रहा है जिसका नाम रखा है 'my first vote for Modi' @modioncemore (मोदी वंस मोर) इनका टि्वटर हैंडल है और यूजर नेम में इंडिया विद मोदी लिखा है. इस हैंडल से कार्टून और वीडियों और मीम के जरिए युवाओं को प्रभावित करने की कोशिश की जा रही है. इनका मानना है कि लंबे-लंबे लेख पढ़ने का वक्‍त युवाओं के पास नहीं है ऐसे में मल्‍टीमीडिया के जरिए उन्‍हें लुभाया जा रहा है.


Loading...





पीएम के रीट्वीट के बाद इस कैंपेन से जुड़ने के लिए लोगों का तांता भी बढ़ने लगा है. खुद पीएम मोदी ने पहली बार वोट देने वाले युवाओं को लुभाने में पिछले चार साल पूरी मशक्कत की है. इसके तहत उन्‍होंने 'परीक्षाओं में तनाव से कैसे बचें' पर एक किताब लिखी. वहीं हर साल शिक्षक दिवस के मौके पर स्कूली बच्चों के साथ सवाल जवाब करते नजर आए.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...