Surya Grahan 2021: आज साल का पहला सूर्य ग्रहण, जानिए किन शहरों में दिखेगा ये नज़ारा

सूर्य ग्रहण (सांकेतिक तस्वीर)

Surya Grahan 2021: सूर्यग्रहण भारतीय समयानुसार शाम लगभग 6:41 बजे खत्म होगा. विश्व में कई संगठन सूर्य ग्रहण की घटना के लाइव प्रसारण की व्यवस्था कर रहे हैं.

  • Share this:
    नई दिल्ली. इस साल का पहला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) आज है. यह वलयाकार सूर्य ग्रहण होगा और यह खगोलीय घटना तब होती है जब सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं. आज लगने वाले इस सूर्य ग्रहण के दिन दुनियाभर के कई देशों में रिंग ऑफ फायर (Ring of Fire) का नजारा भी दिखेगा. इस ग्रहण के दौरान चंद्रमा की परछाई सूर्य को करीब 94 फीसदी हिस्से को पूरी तरह से घेर लेती है. लिहाजा इस दौरान सूरज हीरे की अंगूठी की तरह चमकता दिखता है. विज्ञान की भाषा में इसे रिंग ऑफ फायर कहा जाता है.

    आज सूर्य ग्रहण भारत में सिर्फ अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ हिस्सों में ही सूर्यास्त से कुछ समय पहले दिखाई देगा. एम पी बिरला तारामंडल के निदेशक देबीप्रसाद दुरई ने कहा कि सूर्य ग्रहण भारत में अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ हिस्सों से ही दिखाई देगा.

    भारत में सूर्य ग्रहण का समय
    अरुणाचल प्रदेश में दिबांग वन्यजीव अभयारण्य के पास से शाम लगभग 5:52 बजे इस खगोलीय घटना को देखा जा सकेगा. वहीं, लद्दाख के उत्तरी हिस्से में, जहां शाम लगभग 6.15 बजे सूर्यास्त होगा, शाम लगभग छह बजे सूर्य ग्रहण देखा जा सकेगा.

    ये भी पढ़ें:- ट्विटर ने सरकार से कहा- गाइडलाइंस का पालन करने के लिए हर संभव प्रयास जारी

    दुनिया के बाक़ी हिस्से का समय
    ये सूर्य ग्रहण उत्तरी अमेरिका, यूरोप और एशिया के बड़े क्षेत्र में सूर्य ग्रहण देखा जा सकेगा. भारतीय समयानुसार पूर्वाह्न 11:42 बजे आंशिक सूर्य ग्रहण होगा और ये अपराह्न 3:30 बजे से वलयाकार रूप लेना शुरू करेगा तथा फिर शाम 4:52 बजे तक आकाश में सूर्य अग्नि वलय (आग की अंगूठी) की तरह दिखाई देगा.

    भारत में मान्य नहीं!
    सूर्यग्रहण भारतीय समयानुसार शाम लगभग 6:41 बजे खत्म होगा. विश्व में कई संगठन सूर्य ग्रहण की घटना के लाइव प्रसारण की व्यवस्था कर रहे हैं. इस बार सूर्य ग्रहण कोरोना काल में पड़ रहा है. भारत में ये ग्रहण आंशिक रूप से ही होगा. इसलिए ग्रहण काल मान्य नहीं होगा. अमेरिका के उत्तरी भाग, यूरोप और एशिया में भी आंशिक ग्रहण ही होगा. पूर्ण सूर्य ग्रहण उत्तरी कनाडा, ग्रीनलैंड और रूस में होगा. (एजेंसी इनपुट के साथ)
    First published: