अपना शहर चुनें

States

कांग्रेस का 136वां स्थापना दिवसः सोनिया बोलीं- आजादी से पहले की तरह हैं मौजूदा हालात

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, ‘‘हमारी जिम्मेदारी है कि हम एक बार फिर देश को तानाशाही ताकतों से बचाएं और उनसे लोहा लें.’’ फाइल फोटो
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा, ‘‘हमारी जिम्मेदारी है कि हम एक बार फिर देश को तानाशाही ताकतों से बचाएं और उनसे लोहा लें.’’ फाइल फोटो

135 साल पुरानी कांग्रेस (Congress) पार्टी मौजूदा वक्त में सक्रिय और पूर्णकालिक अध्यक्ष की तलाश में कई चुनौतियों का सामना कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 8:48 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने पार्टी के 136वें स्थापना दिवस पर सोमवार को दावा किया कि देश में वर्तमान परिस्थितियां आजादी के पहले की तरह हैं और ‘तानाशाही ताकतों’ से देश को बचाने के लिए सभी को एकजुट होना होगा. पार्टी की ओर से जारी एक वीडियो में सोनिया ने यह भी कहा कि कांग्रेस (Congress) को हर मोर्चे पर मजबूत बनाने की जरूरत है. हालांकि सोनिया गांधी और राहुल गांधी की गैर-मौजूदगी में पार्टी कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में प्रियंका गांधी मौजूद रहीं और वरिष्ठ नेता एके एंटनी ने पार्टी का झंडा फहराया.

उन्होंने आजादी के आंदोलन और देश के विकास में कांग्रेस के योगदान का उल्लेख किया और यह दावा किया, ‘‘आज फिर से परिस्थितियां आजादी से पहले की तरह हैं. जनता के अधिकार कुचले जा रहे हैं. चारों तरफ तानाशाही का आलम है. लोकतांत्रिक और संवैधानिक संस्थाओं को खत्म किया जा रहा है. बेरोजगारी चरम सीमा पर है. खेत-खलिहान पर हमला बोला जा रहा है. देश के अन्नदाता पर काले कानून थोपे जा रहे हैं.’’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ऐसे में हमारी जिम्मेदारी है कि हम एक बार फिर देश को तानाशाही ताकतों से बचाएं और उनसे लोहा लें. यही सच्ची राष्ट्रभक्ति है.’’





उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आह्वान किया, ‘‘जिस तिरंगे के नीचे हमने आजादी हासिल की थी, आज उसी तिरंगे के नीचे हमें एकजुट होना होगा. कांग्रेस को हर मोर्चे पर मजबूत बनाना होगा. यह तिरंगा कांग्रेस और देशवासियों के लिए जीने का हौसला है, लोगों की आशाओं का प्रतीक है और देश का गौरव है. हमें आम जन के दिलों को जीतना है.’’
बता दें कि भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना 28 दिसंबर 1885 को हुई थी और तत्कालीन बॉम्बे में कांग्रेस का पहला अधिवेशन इसी तारीख को शुरू हुआ था. कांग्रेस का जन्म रिटायर्ड ब्रिटिश अधिकारी एओ ह्यूम की कोशिशों के चलते हुआ था. 135 साल बाद कांग्रेस अपने सक्रिय अध्यक्ष को लेकर चुनौतियों का सामना कर रही है.

सोनिया गांधी कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष हैं और राहुल गांधी लगातार अध्यक्ष बनने से इंकार करते रहे हैं. कांग्रेस को अपने सक्रिय और पूर्णकालिक अध्यक्ष की तलाश है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज