Home /News /nation /

मानसून सत्र में सरकार को घेरने की तैयारी, सोनिया ने बुलाई रणनीतिक समूह की बैठक

मानसून सत्र में सरकार को घेरने की तैयारी, सोनिया ने बुलाई रणनीतिक समूह की बैठक

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फाइल फोटो)

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (फाइल फोटो)

Congress Meeting: कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में कोविड के हालात, टीकाकरण की ‘धीमी गति’, बेरोजगारी, महंगाई और कुछ अन्य मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा की जाएगी.

    नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) ने संसद के मानसून सत्र (Monsoon Session) में उठाए जाने वाले मुद्दों और सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा के लिए 14 जुलाई को पार्टी के संसदीय रणनीतिक समूह की बैठक बुलाई है. सूत्रों ने बताया कि यह बैठक डिजिटल होगी. कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में कोविड के हालात, टीकाकरण की ‘धीमी गति’, बेरोजगारी, महंगाई और कुछ अन्य मुद्दों पर सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा की जाएगी.

    इस बीच, ऐसी चर्चा है कि कांग्रेस लोकसभा में अपने नेता अधीर रंजन चौधरी (Adhir Ranjan Chowdhury) को हटाने और उनके स्थान पर किसी दूसरे को नियुक्त करने पर विचार कर रही है, हालांकि पार्टी की ओर से इस पर अब तब आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा गया है.

    ये भी पढ़ें- संसद के मानसून सत्र से पहले महंगाई के खिलाफ देश के 24 शहरों में कांग्रेस का हल्ला बोल
     सूत्रों का कहना है कि पश्चिम बंगाल चुनाव (West Bengal Assembly Elections) में कांग्रेस के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद से चौधरी को हटाने को लेकर चर्चा है, लेकिन आलाकमान की ओर से उन्हें हटाने या बनाए रखने को लेकर कोई फैसला नहीं किया गया है. चुनाव के समय चौधरी पश्चिम बंगाल प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष की जिम्मेदारी भी निभा रहे थे.





    माना जा रहा है कि अगर चौधरी को हटाने का फैसला होता है तो मनीष तिवारी, शशि थरूर, गौरव गोगोई और रवनीत बिट्टू में से किसी एक को लोकसभा में कांग्रेस के नेता की जिम्मेदारी सौंपी जा सकती है.

    (Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)

    Tags: Congress, Coronavirus, Monsoon, Monsoon session parliament, Sonia Gandhi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर