Assembly Banner 2021

जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, अल बद्र सरगना गनी ख्वाजा ढेर

आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने अल बद्र सरगना गनी ख्वाजा को मार गिराया है. ANI

आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने अल बद्र सरगना गनी ख्वाजा को मार गिराया है. ANI

IGP Kashmir Vijay Kumar: आईजीपी कश्मीर ने बताया कि सोपोर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने अल बद्र सरगना गनी ख्वाजा को मार गिराया है.

  • Share this:
नई दिल्ली. जम्मू और कश्मीर में सुरक्षा एजेंसियों को बड़ी कामयाबी मिली है. आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि सोपोर में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने अल बद्र सरगना गनी ख्वाजा को मार गिराया है, जोकि एक बड़ी सफलता है. पुलिस अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद सुरक्षाबलों ने बारामुला जिले के तुज्जर इलाके के शेरपोरा में घेराबंदी की और तलाशी अभियान शुरू किया. उन्होंने कहा कि आतंकवादियों द्वारा सुरक्षा बलों पर गोलियां चलाने के बाद तलाशी अभियान मुठभेड़ में तब्दील हो गया. सुरक्षा बलों ने फिर जवाबी कार्रवाई की. अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में एक आतंकवादी मारा गया और घटनास्थल से हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए. उन्होंने बताया कि तलाशी अब भी जारी है.

42 संगठनों को आतंकी संगठन का दर्जा
बता दें कि भारत सरकार ने 42 संगठनों को आतंकी संगठन करार दिया है. इन संगठनों के नाम यूएपीए एक्ट (UAPA Act) की पहली अनुसूची में डाले गए हैं. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को लोकसभा में इसकी जानकारी दी. मंत्रालय ने 2018 से जम्मू कश्मीर और देश के अन्य हिस्सों में मारे गए नागरिकों और आतंकियों का भी आंकड़ा जारी किया है.

गृह मंत्रालय ने सोमवार को लोकसभा में बताया कि देश में बड़े पैमाने पर सीमा पार से आतंकवाद प्रायोजित किया जा रहा है. सरकार ने 42 संगठनों को आतंकवादी संगठन घोषित किया है और गैरकानूनी गतिविधियों (रोकथाम) अधिनियम, 1967 की पहली अनुसूची में उनके नाम सूचीबद्ध किए हैं. सरकार की ओर से बताया गया कि वर्ष 2018 में देश के अन्य हिस्सों में 03 लोगों की मौत हुई, जबकि 2019, 2020 और 15 फरवरी 2021 तक देश के अन्य हिस्सों में कोई आतंकवादी मारा गया न ही कोई आम नागरिक मारा गया.
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक 2018 में 257 आतंकियों को मारा गया, जबकि 39 नागरिकों की मौत हुई. वहीं 2019 में 157 आतंकियों को मार गिराया गया और 39 नागरिकों की मौत हुई. वहीं 2020 में 221 आतंकियों को ढेर किया गया, जबकि 37 नागरिकों की मौत हुई.



वहीं 15 फरवरी 2021 तक 3 आतंकियों को मार गिराया गया और 1 नागरिक की मौत हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज