बीजेपी का दामन थामेंगे सौरव गांगुली? राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात के बाद अटकलें हुईं तेज

राजभवन में गांगुली की राज्यपाल से करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. (फोटो साभारः ट्विटर/@jdhankhar1)

राजभवन में गांगुली की राज्यपाल से करीब एक घंटे तक बातचीत हुई. (फोटो साभारः ट्विटर/@jdhankhar1)

West Bengal Elections 2021: अगले साल अप्रैल-मई में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव (West Bengal Elections 2021) के मद्देनजर गांगुली के राजनीति में आने के कयास लगाए जा रहे हैं. गांगुली ने मुलाकात की वजहों को लेकर किए सवालों का जवाब नहीं दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 28, 2020, 5:59 AM IST
  • Share this:

कोलकाता. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने रविवार को पश्चिम बंगाल (West Bengal) के राज्यपाल जगदीप धनखड़ (Governor Jagdeep Dhankar) से मुलाकात की. राजभवन के सूत्रों ने बताया कि यह ‘शिष्टाचार भेंट’ थी और इसका राजनीति से कोई लेना देना नहीं है.

हालांकि, अगले साल अप्रैल-मई में होने वाले राज्य विधानसभा चुनाव (West Bengal Elections 2021) के मद्देनजर गांगुली के राजनीति में आने के कयास लगाए जा रहे हैं. गांगुली ने मुलाकात की वजहों को लेकर किए सवालों का जवाब नहीं दिया लेकिन धनखड़ ने कहा कि उन्होंने ‘विभिन्न मुद्दों’ पर चर्चा की. राज्यपाल ने कहा कि उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष का यहां के इडेन गार्डन स्टेडियम में आने का न्योता स्वीकार कर लिया है.

गांगुली से मुलाकात के बाद राज्यपाल ने किया ट्वीट

राजभवन के सूत्रों ने बताया कि गांगुली के राज्यपाल से मुलाकात का संबंध राज्य की राजनीतिक गतिविधियों से नहीं है. राज्यपाल ने ट्वीट किया, ‘‘ बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली से शाम साढ़े चार बजे राजभवन में विभिन्न मुद्दों पर संवाद हुआ. देश के सबसे पुराने क्रिकेट मैदान इडेन गार्डन का दौरा करने का उनका प्रस्ताव स्वीकार किया. इडेन गार्डन की स्थापना 1864 में हुई थी.’’


 ये भी पढ़ेंः- वक्त के साथ बढ़ता जा रहा दिल्ली बॉर्डर पर किसानों का आंदोलन, BJP-विपक्ष के बीच वाकयुद्ध तेज

गांगुली राजभवन शाम करीब साढ़े चार बजे पहुंचे और एक घंटे तक वहां रहे. कयास लगाए जा रहे हैं कि कई अन्य भारतीय क्रिकेटरों की तरह गांगुली भी बंगाल के आगामी विधानसभा चुनाव में अपना राजनीतिक करियर शुरू कर सकते हैं. माना जा रहा है कि अगर सौरव गांगुली राजनीति में एंट्री करते हैं तो बीजेपी का दामन थामेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज