कर्नाटक के तीन विधायक अयोग्‍य करार, 2023 तक नहीं लड़ पाएंगे चुनाव

स्‍पीकर ने कहा कि जब तक ये विधानसभा चल रही है तब तक वे विधायक नहीं रहेंगे. साथ ही सदन के मौजूदा कार्यकाल में वे चुनाव भी नहीं लड़ जाएंगे.'

News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 10:57 PM IST
कर्नाटक के तीन विधायक अयोग्‍य करार, 2023 तक नहीं लड़ पाएंगे चुनाव
स्‍पीकर ने कहा कि जब तक ये विधानसभा चल रही है तब तक वे विधायक नहीं रहेंगे. साथ ही सदन के मौजूदा कार्यकाल में वे चुनाव भी नहीं लड़ जाएंगे.
News18Hindi
Updated: July 25, 2019, 10:57 PM IST
कर्नाटक विधानसभा के स्‍पीकर केआर रमेश कुमार ने गुरुवार को तीन विधायकों को अयोग्‍य करार दिया है. इन विधायकों में आर शंकर, रमेश जरकिहोली और महेश कुमथल्‍ली हैं. स्‍पीकर ने इससे पहले महेश कुमथल्‍ली और रमेश जरकिहोली के बारे में कहा था कि इन दोनों विधायकों ने गलत प्रारूप में इस्‍तीफा दिया है.

स्‍पीकर ने कहा था, 'मुझे इस बात की सूचना नहीं है कि विधायक रमेश और हमेश 6 जुलाई को मुझसे मिलने मेरे कक्ष में आए थे. मैंने अपने सचिव को उनके पत्र लेने का निर्देश दिया था. स्‍पीकर ने कहा कि जब तक ये विधानसभा चल रही है तब तक वे विधायक नहीं रहेंगे. साथ ही सदन के मौजूदा कार्यकाल में वे चुनाव भी नहीं लड़ जाएंगे.'

रमेश कुमार ने कहा कि कुछ अन्‍य विधायकों की शिकायत भी उन्‍हें मिली है. उनपर भी वे फैसला लेंगे, लेकिन उन्‍हें अभी थोड़ा वक्‍त लेगा. इसके लिए उन्‍हें अध्‍ययन करना होगा. जिन विधायकों को अयोग्‍य घोषित किया गया है, ये विधानसभा भंग होने के बाद ही चुनाव लड़ पाएंगे.

स्‍पीकर ने कहा कि इन विधायकों का इस्‍तीफा उन्‍होंने खारिज कर दिया था, लेकिन बाद में उनके खिलाफ साक्ष्‍य मिले और उन्‍हें अयोग्‍य करार दिया गया. 10वीं अनुसूची के प्रावधान उल्‍लंघन के तहत इन विधायकों पर कार्रवाई की गई है. अयोग्‍य करार दिए गए विधायकों के सामने कोर्ट जाने का विकल्‍प है.

कुमारस्वामी बोले- कर्नाटक में स्थिर सरकार बनने की उम्मीदें कम

वहीं कार्यवाहक मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने आज कहा कि मौजूदा राजनीतिक परिस्थितियों में कोई भी स्थिर सरकार नहीं दे सकता. भविष्य में भी राजनीतिक अस्तिरता जारी रहेगी. कुमारस्वामी ने अपनी सरकार गिर जाने के दो दिन बाद यह बात कही. उन्होंने कहा कि कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के बागी विधायकों के इस्तीफों ने राज्य को उपचुनावों की ओर धकेल दिया.


Loading...

कुमारास्वामी ने कहा, 'आप या तो विकासात्मक गतिविधियों पर ध्यान दें या 20 से 25 जगहों में उपचुनाव पर, भाजपा ने एक ऐसा माहौल बना दिया है? हम यह नहीं मान सकते कि चुनावों के बाद भी सरकार स्थिर रहेगी.'

कांग्रेस का जताया आभार
कुमारस्वामी ने यह बात कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक रामलिंगा रेड्डी से मुलाकात के बाद पत्रकारों से कही. उन्होंने कहा कि उन्होंने गठबंधन सरकार के समर्थन में अपना इस्तीफा वापस लेने के लिए रामलिंगा का आभार जताया.

ये भी पढ़ें: कर्नाटक में सरकार गठन की कवायद तेज, शाह से मिले दिग्‍गज नेता

कुमारस्वामी के समर्थन में पड़े 99 वोट
गौरतलब है कि 23 जुलाई को विधानसभा में हुए शक्ति-परीक्षण में कुमारस्वामी सरकार अल्पमत में आई गई थी. कुमारस्वामी द्वारा पेश विश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 99 और विरोध में 105 मत पड़े थे. इस तरह कुमारस्वामी सरकार के विश्वासमत हारने के बाद तीन सप्ताह से चले आ रहे सियासी नाटक का पटाक्षेप हो गया था.

ये भी पढ़ें: SC ने कर्नाटक के विधायकों को याचिका वापस लेने की दी मंजूरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 25, 2019, 10:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...