जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का खात्मे के लिए चलाया जाएगा विशेष अभियान

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को पकड़ने के लिए घाटी में की जाएग घेराबंदी.(सांकेतिक फोटो)
जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को पकड़ने के लिए घाटी में की जाएग घेराबंदी.(सांकेतिक फोटो)

जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने शनिवार को सुरक्षा बलों (Security forces) से कहा कि आतंकवादियों (Terrorist) के खात्मे के लिए घाटी में घेराबंदी और खोज अभियानों को तेज किया जाए. सिंह ने कहा कि अब चरमपंथियों और उनके समर्थकों पर और दबाव बढ़ाने का वक्त आ गया है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 27, 2020, 10:49 AM IST
  • Share this:
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) में पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से आतंकी (Terrorist) गतिविधियां तेज हुई हैं उसके बाद सुरक्षाबलों (Security forces) को सतर्क रहने को कहा गया है. जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने शनिवार को सुरक्षा बलों से कहा कि आतंकवादियों के खात्मे के लिए घाटी में घेराबंदी और खोज अभियानों को तेज किया जाए. सिंह ने यह भी कहा कि अब चरमपंथियों और उनके समर्थकों पर और दबाव बढ़ाने का वक्त आ गया है.

पुलिस के एक प्रवक्ता ने बताया कि सिंह ने कश्मीर में पुलिस नियंत्रण कक्ष, प्रशासन, सेना, पुलिस और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल के विभिन्न अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त टिप्पणी की. प्रवक्ता ने बताया कि बैठक में घाटी के मौजूदा सुरक्षा परिदृश्य की समीक्षा की गई.अलग अलग एजेंसियों की नुमाइंदगी कर रहे अधिकारियों ने डीजीपी को उन कदमों के बारे में बताया जो शांति एवं व्यवस्था तथा लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए लागू किए गए हैं.

सिंह ने कहा, जम्मू-कश्मीर में शांति हासिल करने के लिए सभी बलों ने अपने अधिकारियों और जवानों की कुर्बानी दी है और आतंकवादियों तथा उनके समर्थकों पर और दबाव डालने का समय है.
इसे भी पढ़ें :- जम्मू-कश्मीर: आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने नेताओं को दी खुलेआम धमकी- राजनीति से दूर रहो वरना...



आतंकवादी घाटी की शांति भंग करने के फिराक में हैं
डीजीपी ने आतंकवादियों के खात्मे के लिए घेराबंदी और खोज अभियान तेज करने पर जोर देते हुए कहा कि आतंकवादी पाकिस्तान में बैठे आतंकवाद के एजेंटों और घाटी में मौजूद एजेंटों के कहने पर शांति और व्यवस्था को बाधित करने की फिराक में हैं.सिंह ने कहा कि मौजूदा साल में आतंकवाद-रोधी अभियान के अच्छे नतीजे मिले हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज