8 राज्यों के 13 जिलों पर सरकार का फोकस, यहां कोविड संक्रमण और मृत्यु दर ज्यादा

8 राज्यों के 13 जिलों पर सरकार का फोकस, यहां कोविड संक्रमण और मृत्यु दर ज्यादा
कोविड-19 के ज्यादा मामले वाले जिलों पर सरकार का विशेष फोकस है (सांकेतिक फोटो, AP)

भारत के कुल सक्रिय मामलों के लगभग 9% और कोविड (COVID) से हुई मौतों के लगभग 14% इन्हीं जिलों में हैं. इन जिलों में प्रति 10 लाख के हिसाब से कम परीक्षण और उच्च पुष्टि प्रतिशत (low tests per million and high confirmation percentage) भी देखा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 8, 2020, 5:33 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोविड-19 के बढ़ते मामलों (increasing COVID-19 cases) को लेकर सरकार चिंतित है और उसका खास फोकस उन जिलों पर है, जहां लगातार बड़ी संख्या में संक्रमण के मामले आ रहे हैं. जानकारी दी गई है कि ये जिले असम (Assam) में कामरूप मेट्रो, बिहार (Bihar) में पटना, झारखंड (Jharkhand) में रांची, केरल (kerala) में अलापुझा और तिरुवनंतपुरम, ओडिशा में गंजम, उत्तर प्रदेश में लखनऊ, पश्चिम बंगाल (West Bengal) में उत्तर 24 परगना, हुगली, हावड़ा, कोलकाता और मालदा, और दिल्ली (Delhi) हैं.

भारत के कुल सक्रिय मामलों के लगभग 9% और COVID से हुई मौतों के लगभग 14% इन्हीं जिलों में हैं. इन जिलों में प्रति 10 लाख के हिसाब से कम परीक्षण और उच्च पुष्टि प्रतिशत (low tests per million and high confirmation percentage) भी देखा गया है. इनमें से चार जिलों में रोजाना नए मामलों में बढ़ोत्तरी देखी गई है, और वे जिले हैं- असम में कामरूप मेट्रो, उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में लखनऊ, केरल में तिरुवनंतपुरम और अलाप्पुझा.

कई वरिष्ठ अधिकारियों ने बैठक में भाग लेकर बनाई योजना
इन जगहों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए एक बैठक हुई. इस वर्चुअल मीटिंग में जिला निगरानी अधिकारियों, जिला कलेक्टरों, नगर निगम के आयुक्तों, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों और चिकित्सा अधीक्षक के साथ आठ राज्यों के प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) और एमडी (NHM) ने भी भाग लिया.
ऊपर जिन जिलों का जिक्र किया गया है, उनके अलावा दक्षिण भारत में 24 और जिले हैं जिन्हें कोविड से निपटने के लिए और अधिक प्रयास करने की आवश्यकता कही गई है.



कई अन्य अधिक संक्रमण वाले जिलों को भी सख्ती से केंद्रीय दिशानिर्देश पालन कराने का निर्देश
निम्नलिखित जिलों के प्रशासन को सरकार ने COVID को रोकने के लिए पूरे प्रयास करने का निर्देश दिया है. इन जिलों के प्रशासन को केंद्र के दिशानिर्देशों का सख्ती से पालन कराने के लिए कदम उठाने और मृत्यु दर को रोकने के उपाय करने को कहा गया है.

भारत में सबसे ज्यादा प्रभावित इन जिलों में 16 जिले सिर्फ 4 राज्यों से आते हैं- गुजरात में अहमदाबाद और सूरत; कर्नाटक में बेलगावी, बेंगलुरु शहरी, कलबुर्गी और उडुपी; तमिलनाडु में चेन्नई, कांचीपुरम, रानीपेट, तेनी, तिरुवल्लुर, तिरुचिरापल्ली, तूतीकोरिन और विरुधनगर; तेलंगाना में हैदराबाद और मेडचल मालकजगिरी.

यह भी पढ़ें: कोझिकोड विमान हादसा: मरने वाला एक यात्री पॉजिटिव, सभी यात्रियों की होगी जांच

उच्च संक्रमण दर और उच्च मृत्यु दर के अलावा, ये जिले भारत के सक्रिय मामलों का 17% हिस्सा रखते हैं. सबसे कम परीक्षण को लेकर भी इनके ही नाम सामने आये हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज