Home /News /nation /

डिजिटल पेमेंट को जबरदस्त बढ़ावा, अब तक 4 लाख लोगों की खुली लॉटरी!

डिजिटल पेमेंट को जबरदस्त बढ़ावा, अब तक 4 लाख लोगों की खुली लॉटरी!

पीएम मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया और देश को डिजटल पेमेंट की दिशा में बढ़ाने की बात की तो विविधताओं से भरे इस देश में ये संभव कैसे होगा. यहां जरुरत थी आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग की।

पीएम मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया और देश को डिजटल पेमेंट की दिशा में बढ़ाने की बात की तो विविधताओं से भरे इस देश में ये संभव कैसे होगा. यहां जरुरत थी आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग की।

पीएम मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया और देश को डिजटल पेमेंट की दिशा में बढ़ाने की बात की तो विविधताओं से भरे इस देश में ये संभव कैसे होगा. यहां जरुरत थी आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग की।

सरकार ने नोटबंदी के बाद लेस कैश इकोनॉमी को बढावा देने के लिए आम आदमी को प्रोत्साहन देने का नया फार्मूला ढूंढ निकाला. सरकार ने एक लकी ग्राहक योजना और डीजी धन व्यापार योजना शुरू की. अब तक इस योजना के तहत देश भर में 24 डिजी धन मेला आयोजित किए जा चुके हैं. अब तक 3.81 लाख उपभोक्ताओं औक 21000 व्यापारियों को 60.90 करोड़ रुपयों का इनाम दिया जा चुका है. ये य़ोजना 25 दिसंबर को वित्त मंत्री अरुण जेटली और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लागू की थी, जो 14 अप्रैल 2017 तक चलेगी.

आशुतोष मिश्रा, उम्र 24साल. रामपुर ओडिशा में एक मोबाईल की छोटी दुकान के मालिक- लकी ड्रा में जीते 10000 रुपये

स्वाति नारायण, 34 साल, रांची, गृहिणी,  लकी ड्रा में जीते 10000

भुवनेश्वर साह—25 साल, नौकरीपेशा, लकी ड्रा में जीते 1 लाख रुपए

इसे कहते हैं ‘हींग न फिटकिरी, रंग पड़े चोखा’. ऐसे लोगों की ये एक लंबी लिस्ट है हर उम्र और हर तबके के लोग शामिल हैं. खास बात ये है कि इनमें से ज्यादातर विजेता 21 से 30 वर्ष की आयु वाले हैं. न तो इन्होंने कोई लाटरी का टिकट खरीदा था, न ही कोई ईनामी कूपन. इन सबको इनाम मिला है अपने हर भुगतान में डिजिटल पेमेंट करने का.

नेशनल पेमेंट कार्पोरेशन के आंकडों की मानें तो अब तक माहाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक देश के पांच शीर्ष राज्यों के रुप में उभरकर सामने आए हैं, जिन्होंने डिजिटल पेमेंट को जोर शोर से अपनाया है. सरकार की तरफ से आम आदमी को प्रोत्साहन देने की योजना के तहत हर रोज 15000 विजेताओं का ऐलान हो रहा है. इसकी ईनामी राशि 1.5 करोड रुपये है, यानि 1000 रुपये प्रति व्यक्ति. इसके अलावा साप्ताहिक ड्रा के लिए हर हफ्ते 14000 विजेताओं का ऐलान किया जा रहा है यानि कुल इनामी राशि 8.3करोड रुपए. लकी ड्रा कुल मिला कर 100 डिजी धन मेले में निकाले जाएंगे और ये देश के विभिन्न शहरों में आयोजित किए जाएंगे.

सभी उपभोक्ता और व्यापारी जो रुपे कार्ड, बीएचआईएम यानि भीम, य़ूपीआई, यूएसएसडी, आधार पेमेंट सर्विस के माध्यम से पेमेंट कर रहे हों, इस इनाम के हकदार हो जाते हैं. अब तो रोजाना और हर हफ्ते लकी ड्रा के बाद इंतजार है, 14 अप्रैल को होने वाले लकी ड्रा का. एक आम आदमी को ये मेगा पुरस्कार मिल जाता है तो वो सीधा करोड़पति बन जाएगा. इस योजना के तहत पहला पुरस्कार 1 करोड़, दूसरा पुरस्कार 50 लाख और तीसरा पुरस्कार 25 लाख का होगा. छोटे व्यापारियों के लिए भी खासा शुभ संदेश है क्योंकि इनके लिए पहला पुरस्कार 50 लाख, दूसरा 25 लाख और तीसरा 12 लाख होगा. पूरी योजना में कुल 18.75 लाख लोग लाभान्वित होंगे. पूरी योजना के लिए सररकार ने 340 करोड रुपए रखे हैं, जिसमें 300 करोड रुपए पुरस्कार के लिए और 40 करोड़ इसके लिए चलाए जाने वाले जागरुकता अभियान के लिए रखे हैं.

पीएम मोदी ने जब नोटबंदी का ऐलान किया और देश को डिजटल पेमेंट की दिशा में बढ़ाने की बात की तो विविधताओं से भरे इस देश में ये संभव कैसे होगा. यहां जरूरत थी आउट ऑफ बॉक्स थिंकिंग की. यहीं शुरुआत हुई लकी ड्रा योजना की. अब उम्मीद यही की जा रही है कि इन विजेताओं को देख कर हर व्यक्ति उत्साहित होगा और देश डिजिटल पेमेंट की दिशा में और सफलता से आगे बढ़ेगा.

Tags: Digital India, Narendra modi

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर