लाइव टीवी

JDU का दामन छोड़ने के बाद TMC का हाथ थाम सकते हैं प्रशांत किशोर

भाषा
Updated: January 29, 2020, 9:37 PM IST
JDU का दामन छोड़ने के बाद TMC का हाथ थाम सकते हैं प्रशांत किशोर
प्रशांत किशोर तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनावी रणनीतिकार की भूमिका निभा रहे हैं (फाइल फोटो)

तृणमूल कांग्रेस (TMC) के शीर्ष नेताओं (Top Leadership) ने इस तरह के किसी घटनाक्रम की पुष्टि नहीं की लेकिन निकट भविष्य में इस तरह की संभावनाओं को खारिज भी नहीं किया.

  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) के राजनीतिक गलियारे में इस तरह की चर्चा जोरों पर है कि प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं. प्रशांत किशोर को जदयू (JDU) ने बुधवार को पार्टी से निष्कासित कर दिया.

संपर्क किए जाने पर तृणमूल कांग्रेस (TMC) के शीर्ष नेताओं (Top leaders) ने इस तरह के किसी घटनाक्रम की पुष्टि नहीं की लेकिन निकट भविष्य में इस तरह की संभावनाओं को खारिज भी नहीं किया.

ममता बनर्जी की तरह प्रशांत किशोर भी करते रहे हैं CAA और NRC की आलोचना
तृणमूल कांग्रेस के लिए चुनावी रणनीतिकार (Election strategist) की भूमिका निभा रहे किशोर से पीटीआई ने संपर्क करने की कई बार कोशिशें की लेकिन जवाब नहीं मिला.

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की तरह किशोर भी संशोधित नागरिकता कानून (CAA) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NRC) की आलोचना करते रहे हैं.

'TMC सुप्रीमो ममता बनर्जी के साथ प्रशांत किशोर के बहुत अच्छे संबंध'
तृणमूल कांग्रेस (TMC) के सूत्रों के मुताबिक, पार्टी की सुप्रीमो बनर्जी के साथ किशोर के बहुत अच्छे संबंध हैं.तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्थ चटर्जी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘चुनावी रणनीतिकार के तौर पर प्रशांत किशोर ने पार्टी के लिए बहुत अच्छा काम किया है. अब वह तृणमूल कांग्रेस से जुड़ेंगे या नहीं, इस बारे में वह (किशोर) और पार्टी के शीर्ष नेतृत्व (Top Leadership) फैसला करेंगे. ’’

'प्रशांत किशोर जैसे रणनीतिकार का 2021 चुनाव से पहले पार्टी से जुड़ना, उपलब्धि'
नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर तृणमूल कांग्रेस (TMC) के एक नेता ने बताया कि अगर किशोर पार्टी से जुड़ना चाहें तो उनका खुले दिल से स्वागत होगा क्योंकि उनके जैसा रणनीतिकार 2021 के विधानसभा चुनाव (Assembly Election) के पहले पार्टी से जुड़े, यह उपलब्धि होगी.

यह भी पढ़ें: क्या PK कभी जेडीयू के 'वफादार' थे? हमेशा सवालों के घेरे में रही उनकी भूमिका

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 29, 2020, 9:37 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर