फ्लाइट में 6 घंटे कैद रहे 150 यात्री, बेंगलुरु से दिल्‍ली पहुंचने में लगे 15 घंटे

फ्लाइट में 6 घंटे कैद रहे 150 यात्री, बेंगलुरु से दिल्‍ली पहुंचने में लगे 15 घंटे
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

स्‍पाइसजेट की फ्लाइट नंबर SG-8720 ने शुक्रवार की रात बेंगलुरु से उड़ान भरी. फ्लाइट नॉन स्‍टॉप थी, उसे बेंगलुरु से दिल्‍ली के बीच कहीं रुकना नहीं था.

  • News18.com
  • Last Updated: May 11, 2019, 11:34 PM IST
  • Share this:
लोग समय बचाने के लिए फ्लाइट का सफर करते हैं. हजारों मील की दूरी घंटों में तय कर लेते हैं. लेकिन, स्पाइसजेट की फ्लाइट से बेंगलुरु से दिल्‍ली का सफर कुछ ऐसा रहा की यात्रियों को जीवन भर याद रहेगा. दरअसल, बेंगलुरु से दिल्‍ली तक के सफर का एवरेज टाइम 3 घंटे का है. लेकिन स्‍पाइसजेट की फ्लाइट नंबर SG-8720 ने यह दूरी 15 घंटे में पूरी की.

स्‍पाइसजेट की फ्लाइट नंबर SG-8720 ने शुक्रवार की रात बेंगलुरु से उड़ान भरी. नॉन स्‍टॉप फ्लाइट थी, उसे बेंगलुरु से दिल्‍ली के बीच कहीं रुकना नहीं था. फ्लाइट ने बेंगलुरु से लगभग डेढ़ घंटे की देरी से उड़ान भरी. उसे रात 10:00 बजे उड़ान भरनी थी, लेकिन 11:30 बजे उड़ान भरी. उसके बाद किसी तकनीकी कारण से विमान को नागपुर डायवर्ट कर दिया गया.

न्‍यूज वेबसाइट नवभारत टाइम्‍स के अनुसार, फ्लाइट को नागपुर लैंड कराया गया, लेकिन यात्रियों को बाहर नहीं निकाला गया. यात्रियों का कहना है कि वे लगभग छह घंटे तक प्‍लेन में बंद रहे और एयरपोर्ट पर भी लगभग चार घंटे इंतजार करना पड़ा. विमान में 150 लोग सवार थे.



ये भी पढ़ें: ट्रेनी पायलट ने बिना नाश्ता किए उड़ाया विमान, 5500 फीट ऊंचाई पर हुआ बेहोश



यात्रियों का कहना है कि उन्‍हें सुबह 10 बजे उन्‍हें दूसरी फ्लाइट में बैठाया गया, लेकिन उस फ्लाइट ने भी उड़ान भरने में लगभग डेढ़ घंटे की देरी लगाई. उसके बाद विमान ने उड़ान भरी और यात्री दिल्‍ली पहुंचे.

ये भी पढ़ें: 'कम सैलरी पर काम करने को तैयार हैं जेट एयरवेज कर्मचारी'

मामले पर स्‍पाइसजेट के प्रवक्‍ता ने कहा, 'तकनीकी खराबी के कारण फ्लाइट नंबर एसजी-8720 को नागपुर डॉयवर्ट करना पड़ा था. हालांकि फ्लाइट की नॉर्मल लैंडिंग हुई थी. वहां यात्रियों को रिफ्रेंशमेंट्स दिया गया और उन्‍हें दूसरे विमान से दिल्‍ली भेजा गया.'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading