होम /न्यूज /राष्ट्र /स्पाइसजेट एयरलाइंस: 80 पायलटों को जबरन बिना सैलरी 3 महीने की छट्टी पर भेजा

स्पाइसजेट एयरलाइंस: 80 पायलटों को जबरन बिना सैलरी 3 महीने की छट्टी पर भेजा

स्पाइसजेट एयरलाइन्स ने अपने 80 पायलेटों को बिना सैलेरी 3 महीने की छुट्टी पर भेज दिया है.

स्पाइसजेट एयरलाइन्स ने अपने 80 पायलेटों को बिना सैलेरी 3 महीने की छुट्टी पर भेज दिया है.

स्पाइसजेट एयरलाइन्स के अचानक लिए गए फैसले से कर्मचारी सकते में आ गए हैं. एयरलाइन्स कंपनी ने अपने 80 पायलटों को बिना सैल ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. स्पाइसजेट कंपनी ने अपने 80 पायलटों को बिना सैलेरी दिए ही 3 महीने की छुट्टी पर भेज दिया है. गुरूग्राम की एयरलाइन्स कंपनी ने मंगलवार को यह फैसला लिया है. कंपनी का कहना है कि उसने यह फैसला खर्च को कम कर इकोनॉमिक क्राइसेस से निपटने के लिए किया है. इस फैसले पर बयान देते हुए कंपनी ने कहा है कि ‘पायलेटों को छटनी करने की बजाय उनको छुट्टी पर भेजना कंपनी की नीतियों और कर्मचारियों के हित में है. कोविड महामारी के दौरान भी एयरलाइन ने कर्मचारियों को नौकरी से नहीं निकाला था. इस कदम से पायलटों की संख्या को विमानों के बेड़े से सुसंगत किया जा सकेगा.’ बिना सैलेरी छुट्टी पर जबरन भेजे गए पायलट, एयरलाइन के बोइंग और बाम्बार्डियर बेड़े के हैं.

वापस बुलाने का कोई आश्वासन नहीं दिया गया
एक पायलट ने पीटीआई भाषा को बताया कि  ‘हमें एयरलाइन के इकोनॉमिक क्राइसिस की जानकारी है, लेकिन अचानक लिए गए इस फैसले से हमें झटका लगा है. तीन माह बाद कंपनी की वित्तीय स्थिति क्या होगी इसको लेकर भी अनिश्चितता है. इस बात का कोई आश्वसन नहीं दिया गया है कि छुट्टी पर भेजे गए पायलटों को वापस बुलाया जाएगा.’

कर्मचारियों की सैलेरी में की गई थी कटौती
स्पाइसजेट कंपनी में काम करने वाले और पूर्व कर्मचारियों ने बताया कि यह पहली बार है जब एयरलाइन ने कोविड-19 महामारी की वजह से पायलटों को जबरन छुट्टी पर भेजा है. स्पाइसजेट कंपनी के एक पूर्व कर्मचारी बताते हैं कि महामारी की वजह से विदेशी पायलटों को बर्खास्त किया गया था. जबकि साल 2020 में क्रू के मेम्बर्स को एक से ज्यादा बार बिना सैलेरी छुट्टी पर भेजा गया है. इसके अलावा कर्मचारियों की सैलेरी में भी कटौती की गई है.

कर्मचारी ज्यादा और चल रहे प्लेनों की संख्या कम
इस मामले में स्पाइसजेट ने बयान में कहा कि उसने 737 मैक्स प्लेनों को खड़ा किए जाने के बाद 2019 में अपने बेड़े में 30 से अधिक प्लेन जोड़े हैं. एयरलाइन्स ने इस उम्मीद में मैक्स प्लेन जोड़े की यह जल्द ही दोबारा चलना शुरू हो जाएंगे. इस पर पायलटों की भर्ती जारी रखी. लेकिन लंबे समय से मैक्स प्लेन खड़े हैं इस वजह से अब पायलटों की संख्या ज्यादा हो गई है. एयरलाइन्स ने कहा कि जल्द मैक्स प्लेन बेड़े में फिर शामिल होंगे और पायलटों को दोबारा काम पर बुलाया जाएगा.

Tags: Delhi, Flight Pilot, Latest News, Spicejet

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें