महिला के बारे में टिप्पणी करने के चलते दलाई लामा को मांगनी पड़ी माफी

दलाई लामा ने कहा था कि अगर उनकी उत्तराधिकारी कोई महिला हुई तो उसे आकर्षक होना चाहिए.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 9:53 PM IST
महिला के बारे में टिप्पणी करने के चलते दलाई लामा को मांगनी पड़ी माफी
दलाई लामा ने कहा था कि अगर उनकी उत्तराधिकारी कोई महिला हुई तो उसे खूबसूरत होना चाहिए (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 9:53 PM IST
दलाई लामा ने हाल ही में बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में अपनी महिला उत्तराधिकारी को लेकर दिए बयान को लेकर मंगलवार को माफी मांग ली है. तिब्बत में बौद्ध धर्म के आध्यात्मिक नेता दलाई लामा से बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में पूछा गया था कि क्या उनकी उत्तराधिकारी एक महिला भी हो सकती है? अपने जवाब में दलाई लामा ने कहा था कि अगर उनकी उत्तराधिकारी कोई महिला हुई तो उसे आकर्षक होना चाहिए.

2015 में भी कह चुके थे ऐसी बात

दलाईलामा ने 2015 में भी कहा था कि उनकी महिला उत्तराधिकारी को बहुत आकर्षक होना होगा, नहीं तो वह किसी काम की नहीं होगी. हाल ही में दलाई लामा के इस बयान की बहुत आलोचना हो रही थी.

बाद में बीबीसी ने इस मामले में उनसे सफाई भी मांगी थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि उन्होंने ऐसा इसलिए कहा था क्योंकि लोगों को खूबसूरत महिला को देखकर खुशी होगी और वे खुश रहेंगे.

सफाई देते हुए कहा था कि आकर्षक व्यक्तित्व पर टिकती हैं नज़रें
2015 में कही अपनी इस बात को उन्होंने दोहराया था. दलाईलामा का कहना था कि उत्तराधिकारी को दिखने में आकर्षक इसलिए भी होना चाहिए क्योंकि दुनिया डेड फेस देखना पसंद नहीं करती. आकर्षक व्यक्तित्व पर ही हर किसी की नज़र टिकती है.

कार्यालय ने कहा कि आधुनिक विचारों के समर्थक हैं दलाई लामा
Loading...

उनके कार्यालय ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा है कि दलाईलामा किसी के विचारों को ठेस नहीं पहुंचाना चाहते थे और उन्हें इस बात का गहरा अफसोस है कि लोग उनकी कही बात से आहत हुए हैं.

उनके कार्यालय ने यह भी कहा है कि आध्यात्मिक नेता ने महिलाओं के अधिकारों का समर्थन किया है और अक्सर सुझाव दिया है कि अगर हमारे पास अधिक महिला नेता होंगीं तो दुनिया एक ज्यादा शांतिपूर्ण जगह बन जाएगी.

यह भी पढ़ें: IND vs BAN : पहली बार 4 विकेटकीपर के साथ उतरी टीम इंडिया
First published: July 2, 2019, 9:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...