अपना शहर चुनें

States

कोरोना संक्रमण का फैलता खतरा: जानें किस राज्य में कितने मेहमानों को आप कर सकते हैं आमंत्रित

तस्वीर- News18.com
तस्वीर- News18.com

देश में कोरोना संक्रमण (Coronavirus In India) के बढ़ने के डर के बीच राज्य सरकारों ने शादियों के सीजन के दौरान एक बार फिर से मेहमानों की संख्या पर पाबंदी लगा दी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 12:45 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ने के डर के बीच राज्य सरकारों ने शादियों के सीजन के दौरान एक बार फिर से मेहमानों की संख्या पर पाबंदी लगा दी है. कुछ राज्यों में यहां तक कह दिया गया है कि शादी के लिए जिलाधिकारी से अनुमति लेनी होगी. जिन राज्यों और जिलों में कोरोना के मामलों में ज्यादा वृद्धि दर्ज की जा रही है वहां अन्य उपायों के भी इंतजाम किए जा रहे हैं.

आइए हम आपको बताते हैं कि देश के किन-किन राज्यों में शादी में मेहमानों की संख्या कितनी होगी. बात अगर राजस्थान की करें तो यहां सरकार ने कोरोना महामारी को देखते हुए शादी विवाह में अधिकतम 100 लोगों के शामिल होने सहित कई शर्तें तय की हैं.

वहीं यूपी में 100 मेहमानों की परमिशन है. हालांकि अगर शादी किसी लॉन में हो रही है तो वहां की क्षमता के 40% तक को आमंत्रित किया जा सकता है. वहीं  गौतम बुद्ध नगर जिले में अगर किसी विवाह या समारोह में 100 या इससे कम लोग शामिल होते हैं, तो इसके लिए पुलिस या जिला प्रशासन से अलग से कोई मंजूरी लेने की आवश्यकता नहीं है. हालांकि आयोजकों को दो ईमेल आईडी पर जानकारी भेजनी होगी, ताकि जरूरत पड़ने पर पुलिस एवं जिला प्रशासन के अधिकारी वहां जाकर लोगों की संख्या की जांच कर सकें.



कोविड-19 : शादी में 250 से ज्यादा मेहमान बुलाने पर जाना पड़ सकता है जेल
मध्य प्रदेश स्थित इंदौर में कोविड-19 की नई लहर के जोर पकड़ने के बीच जिला प्रशासन ने शादियों में मेहमानों की तादाद 250 लोगों तक सीमित कर दी है, जबकि शवयात्राओं, अंतिम संस्कार और शोक सभाओं में ज्यादा से ज्यादा 50 व्यक्ति शामिल हो सकेंगे. जिलाधिकारी मनीष सिंह ने दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत जारी आदेश के हवाले से सोमवार को यह जानकारी दी.

उन्होंने बताया कि बारात में बैंड-बाजे और रोशनी वालों के अलावा अधिकतम 50 लोग शामिल हो सकेंगे, जबकि जन्मदिन ओर शादी की सालगिरह के समारोहों में ज्यादा से ज्यादा 20 मेहमानों को बुलाया जा सकेगा. सिंह ने बताया कि आयोजकों को शादियों के साथ ही सामाजिक, सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों को रात 10 बजे तक समाप्त करना होगा.

इसके साथ ही दिल्ली में 50, गुजरात में 100, महाराष्ट्र में 50, हरियाणा में दिल्ली से सटे 6 जिलों में खुले में 100 लोग और हॉल में 50-100 लोगों को बुलाया जा सकता है. बाकी बाकी जिलों में इंडोर में 100 और खुले में 200 मेहमान बुलाए जा सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज