• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • Covid-19 Vaccine Update: सीरम में होगा स्पूतनिक V का उत्पादन, हर साल बनायी जाएंगी 30 करोड़ से ज्यादा डोज

Covid-19 Vaccine Update: सीरम में होगा स्पूतनिक V का उत्पादन, हर साल बनायी जाएंगी 30 करोड़ से ज्यादा डोज

रूस की कोरोना वायरस वैक्सीन स्पुतनिक-V. फाइल फोटो

रूस की कोरोना वायरस वैक्सीन स्पुतनिक-V. फाइल फोटो

Vaccine Update: सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा, 'स्पूतनिक वैक्सीन के उत्पादन के लिए RDIF के साथा साझेदारी कर खुश हूं. हम आने वाले महीनों में लाखों डोज बनाने की उम्मीद कर रहे हैं.'

  • Share this:
    नई दिल्ली. रूसी कोविड-19 वैक्सीन स्पूतनिक V (Sputnik V) का निर्माण पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) में होगा. इस बात की जानकारी वैक्सीन निर्माता रशियन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट फंड (RDIF) ने दी है. उन्होंने कहा है, 'वे हर साल 30 करोड़ से ज्यादा डोज का उत्पादन करना चाहते हैं.' वैक्सीन उत्पादन को लेकर टेक्नोलॉजी ट्रांसफर की प्रक्रिया शुरू हो गई है. उम्मीद की जा रही है कि टीके की पहली खेप इस साल सितंबर तक तैयार हो सकती है.

    सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा, 'स्पूतनिक वैक्सीन के उत्पादन के लिए RDIF के साथ साझेदारी कर खुश हूं. हम आने वाले महीनों में लाखों डोज बनाने की उम्मीद कर रहे हैं.' उन्होंने जानकारी दी, 'सितंबर में ट्रायल बैच की शुरुआत हो जाएगी.' खास बात यह है कि भारत में वैक्सीन सप्लाई में कमी की खबरें आती रही हैं. ऐसे में यह करार काफी अहम साबित हो सकता है.

    पूनावाला ने कहा, 'उच्च प्रभावकारिता और सुरक्षा के साथ यह बेहद जरूरी है कि स्पूतनिक वैक्सीन भारत और दुनिया में सभी तक पहुंचे. वायरस की अनिश्चितता को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय संस्थान और सराकारों को महामारी के खिलाफ लड़ाई मजबूत करने के लिए साथ आना जरूरी है.' रूसी वैक्सीन निर्माता ने भी इस फैसले के बाद खुशी जाहिर की है.



    यह भी पढ़ें: कोरोना के हालात पर पूर्वोत्तर के मुख्यमंत्रियों संग पीएम मोदी ने की बैठक, हिल स्टेशन और बाज़ारों में भीड़ पर जताई चिंता

    RDIF के सीईओ किरिल दिमीत्रिव ने कहा, 'दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीन निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के साथ आने पर खुशी हो रही है.' उन्होंने कहा कि यह रणनीतिक साझेदारी हमारी उत्पादन क्षमताओं में इजाफा करने के लिए बड़ा कदम है. बयान के अनुसार, 'टेक्निकल ट्रांसफर प्रक्रिया के हिस्से के रूप में SII को पहले ही गमालेया सेंटर से सेल और वेक्टर सैंपल्स मिल गए हैं. उनके ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की तरफ से आयात को मंजूरी के साथ प्रक्रिया शुरू हो चुकी है.'

    भाषा के मुताबिक, टीकाकरण का नया चरण आरंभ होने के बाद दैनिक औसत में 21 जून से कमी देखी जा रही है. कोविन प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 21-27 जून वाले हफ्ते में प्रत्येक दिन कोविड रोधी टीके की औसतन 61.14 लाख खुराक दी गईं. इसके बाद के हफ्ते में, 28 जून से 4 जुलाई के बीच यह आंकड़ा कम होकर प्रतिदिन 41.92 लाख खुराक रह गया. इसके बाद, 5 से 11 जुलाई वाले हफ्ते में प्रतिदिन लगाई गई टीके की खुराकों की औसत संख्या और कम होकर 34.32 लाख रह गई.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज